Saturday, January 28, 2023

मोहम्मदी के सरैया में 12 दिनों से लगातार अलर्ट मोड पर है स्वास्थ्य विभाग- सीएमओ

Must Read

ऋषि कांत शर्मा (संवाददाता)

* 5546 घरों का हुआ भ्रमण, 886 बच्चों को लगाए गए टीके, लिए गए 629 सैंपल

लखीमपुर खीरी। मोहम्मदी के मोहल्ला सरैया में बच्चों की मृत्यु के मामले में लगातार 12 दिन से स्वास्थ्य विभाग द्वारा समुचित स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान की जा रही हैं। सभी बच्चों की जांच सहित दवाओं का वितरण किया जा रहा है। साथ ही नगर पंचायत द्वारा सफाई व्यवस्था भी करवाई जा रही है। बच्चों की मृत्यु के कारणों का पता लगाने के लिए स्वास्थ्य विभाग और उसकी सहयोगी संस्थाओं द्वारा स्थलीय निरीक्षण कर कारणों का पता लगाने की कोशिश की जा रही है।

सीएमओ डॉ. संतोष गुप्ता ने बताया कि जिलाधिकारी के निर्देशन के क्रम में स्वास्थ्य विभाग की टीमों के द्वारा सरैया में बचाव हेतु टीमें गठित कर कार्यवाही की गई जो निरंतर जारी है। बुधवार तक सर्वे हेतु लगाई गई टीमों की संख्या 134 है। जिनके द्वारा 5546 घरों का भ्रमण किया गया है। टीकाकरण हेतु 94 टीमों के द्वारा कार्य किया गया एवं 886 बच्चों को टीका कृत किया गया। अब तक 629 सैंपल एकत्र किए गए। जिसमें मलेरिया के 335, डेंगू 271, चिकनगुनिया 27, कोविड-19 एंटीजन 315, कोविड-19 आरटीपीसीआर 345, मलेरिया हेतु बनाई गई स्लाइड 215 हैं जो कि सभी नेगेटिव हैं। 51 मरीजों के ब्लड सैंपल एकत्र किए गए। केजीएमसी लखनऊ भेजे सैम्पल में से 31 की रिपोर्ट मिल चुकी है। स्वास्थ्य विभाग की सहयोगी संस्थाओं डब्ल्यूएचओ यूनिसेफ और चाई के साथ ही एपिडेमियोलॉजिस्ट आईडीएसपी द्वारा पूरे क्षेत्र का स्थलीय निरीक्षण कर यह पता लगाने की कोशिश की गई है कि आखिर इन मृत्यु के पीछे क्या कारण है। लखनऊ भेजे गए सैंपलों में 4 मरीजों को लैप्टोस्पाइरोसिस का इन्फेक्शन होने की पुष्टि की गई है। मोहम्मदी के वार्ड सरैया में जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. अनिल कुमार गुप्ता के नेतृत्व में सीएचसी अधीक्षक डॉ. मयंक मिश्रा द्वारा प्लान बनाकर टीकाकरण कार्य एवं दवा वितरण का कार्य निरंतर जारी है। वहां पर नगर इमाम से भी वार्ता कर सभी मस्जिदों से एवं अन्य धार्मिक स्थलों से आग्रह किया गया है कि वह वहां की आम जनता को भी साफ सफाई हेतु जागरूक करें एवं सभी छूटे हुए बच्चों का टीकाकरण भी करवाए। जिला प्रशासन तथा तहसील मोहम्मदी एसडीएम के द्वारा भी उक्त क्षेत्र का भ्रमण किया गया एवं साफ सफाई हेतु अधिशासी अधिकारी नगर पालिका को निर्देशित किया है। उक्त क्षेत्र में एंटी लारवा स्प्रे फागिंग आदि का भी कार्य करवाया गया है। जिस हेतु जनपद स्तर से जिला मलेरिया अधिकारी को निर्देशित किया गया। स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर स्वास्थ्य विभाग की सभी तैयारियां पूरी हैं और किसी भी स्थिति से निपटने के लिए प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह से तैयार है।

ताज़ा ख़बरें

ग्राम पंचायत जुगैल के खुली बैठक में भूमिहीनों ने पट्टा हेतु किया आवेदन

रविन्द्र पाठक/घनश्याम पाण्डेय(संवाददाता) जुगैल। रेणुकानदी पार कालापानी कहा जाने वाला आदिवासी क्षेत्र ग्राम पंचायत जुगैल के टोला पचपेडीया के...

सम्बंधित ख़बरें