Saturday, February 4, 2023

रूट निर्धारण के विरोध में कलेक्ट्रेट पहुँच ई-रिक्शा चालकों ने किया प्रदर्शन

Must Read

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । शहर में बढ़ती भीड़ के कारण ट्रैफिक व्यवस्था चौपट होती जा रही है। इसी अव्यवस्था को सुधारने के लिए मंगलवार को सीओ सिटी और ट्रैफिक इंस्पेक्टर ने रामलीला मैदान में ई-रिक्शा चालकों के साथ बैठक कर शहर में संचालन करने की हिदायत दिया था लेकिन आज ई-रिक्शा चालकों ने इसका विरोध करते हुए कलेक्ट्रेट पहुँचकर रुट निर्धारण के खिलाफ मोर्चा खोला और विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान ई-रिक्शा चालक 5 किमी0 के दायरे में रिक्शा संचालन की अनुमति मांग रहे थे।
हालांकि रॉबर्ट्सगंज थाना प्रभारी निरीक्षक के आश्वासन पर ई-रिक्शा चालकों ने धरना समाप्त किया।

दरअसल, बीते दिनों सड़कों पर बढ़ती ई-रिक्शा के कारण हर जगह न केवल यात्रियों को बल्कि स्थानीय लोगों को भी परेशानियों से दो-चार होना पड़ रहा था, जिसे देखते हुए ट्रैफिक इंस्पेक्टर और सीओ सिटी ने ई-रिक्शा संचालकों और आटो संचालकों के साथ रामलीला मैदान में मंगलवार को एक बैठक कर ई-रिक्शा और आटो का अलग-अलग रूट तय किया था साथ ही हिदायत दिया था कि तय रूट से अलग चलने पर चालान की कार्रवाई की जायेगी। जिसका विरोध करते हुए आज ई-रिक्शा चालकों ने कलेक्ट्रेट पहुंच विरोध प्रदर्शन किया। हालांकि इस दौरान कुछ आटो चालक भी असलम के नेतृत्व में कलेक्ट्रेट पहुंच गए। इस दौरान आटो चालकों और ई-रिक्शा चालकों ने एक दूसरे के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। सूचना पाकर कलेक्ट्रेट पहुंचे रॉबर्ट्सगंज प्रभारी निरीक्षक ने असलम को डांट-फटकार लगाते हुए मौके से हटाते हुए ई-रिक्शा संचालकों को बगैर परेशानी के 5 किमी0 के दायरे में भी रिक्शा संचालन की अनुमति दी।

इस दौरान रोहित पांडेय, नरेंद्र शर्मा, जितेन्द्र भारती, रविंद्र कुमार, राजबली गुप्ता, रामबली गुप्ता, विकास मद्धेशिया, राम सजीवन, भोलू पासवान, टन्टू मद्धेशिया, सैफू खान, संदीप कुमार, सोनू मुकेश, दीपक, राहुल, महेश, दिनेश आदि लोग मौजूद रहे।

ताज़ा ख़बरें

महाशिवरात्रि के पहले चुर्क शिव मंदिर पर हाईमास्ट लगाए जाने की मांग

आनंद चौबे (संवाददाता) आगामी 18 फरवरी को महाशिवरात्रि है । चुर्क लेबर कालोनी में स्थित शिव मंदिर पर हर वर्ष...

सम्बंधित ख़बरें

You cannot copy content of this page