राष्ट्रीयस्पोर्ट्स

भारतीय कुश्ती संघ (WFI) के अध्यक्ष बृजभूषण सिंह पर महिला पहलवानों ने लगाया यौन शोषण का आरोप

पोडियम में खड़े होकर देश का मान बढ़ाने वाले पदकवीर आज सड़कों पर बैठे हैं। मेडल जीतकर खुशी के आंसू बहाने वाले ये ऐथलीट आज खुद के हालात पर रो रहे हैं। दंगल में दो-दो हाथ करने वाले ये महाबली खुद को कितना कमजोर महसूस कर रहे हैं। भारतीय कुश्ती संघ (WFI) के अध्यक्ष बृजभूषण सिंह पर महिला पहलवानों ने यौन शोषण का आरोप लगाया है। आरोप हैं कि बृजभूषण देश की बेटियों पर बुरी नजर रखते थे। बात न मानने पर परेशान करते थे।

एशियन चैम्पियनशिप की गोल्ड मेडलिस्ट अंशु मलिक ने दावा किया है कि बृजभूषण होटल में अपने कमरे का दरवाजा खोलकर रखते थे। 21 वर्षीय पहलवान अंशु मलिक ने कहा कि नियम है कि फेडरेशन का कोई भी सदस्य खिलाड़ियों वाले होटलों नहीं ठहर सकता है, लेकिन इसके बाद भी भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष बृजभूषण उसी होटल में रुकते थे। यह महिला खिलाड़ियों को असहज करने वाली स्थिति होती थी।

मलिक ने कहा, ”डब्ल्यूएफआई अध्यक्ष जूनयिर वर्ल्ड चैम्पियनशिप में उसी फ्लोर पर रुके हुए थे, जिस पर जूनियर गर्ल रुकी थीं। साथ ही वह सामने वाले कमरे में थे। वह कमरा खुला रखते थे।” अंशु भारत के शीर्ष पहलवानों द्वारा नई दिल्ली के जंतर मंतर पर आयोजित एक विरोध प्रदर्शन में बोल रही थीं, दो दिनों से दिग्गज पहलवान डब्ल्यूएफआई के कथित तानाशाही रवैये का विरोध कर रहे हैं और महासंघ के अध्यक्ष के इस्तीफे की मांग कर रहे थे।

इससे पहले, बुधवार को दो बार की विश्व कुश्ती चैंपियनशिप की पदक विजेता विनेश फोगट और साक्षी ने सांसद बृजभूषण और कई राष्ट्रीय कोचों पर राष्ट्रीय कुश्ती शिविर में कम उम्र के एथलीटों सहित कई पहलवानों के यौन शोषण का आरोप लगाया था।

वहीं तीन बार राष्ट्रमंडल खेलों की पदक विजेता और भाजपा नेता बबीता फोगाट सरकार की ‘संदेशवाहक’ बनीं और धरने पर बैठे पहलवानों को उनकी मांगे पूरी करने का आश्वासन दिया जो भारतीय कुश्ती महासंघ को भंग करने की मांग कर रहे हैं। पूर्व पहलवान बबीता धरना स्थल पर आई और पहलवानों की मांगे सुनीं। उन्होंने कहा ,”मैं हल निकालने की कोशिश करूंगी। मैं पहले पहलवान हूं और फिर राजनेता। मैं इनका दर्द समझती हूं और मैं इनकी मांगे पूरी करने की कोशिश करूंगी।”

वहीं, केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने चंडीगढ़ में पहलवानों के आरोपों पर कहा कि खेल मंत्रालय ने WFI को नोटिस भेजकर 72 घंटे में जवाब मांगा है। आगामी शिविर भी तत्काल प्रभाव से स्थगित कर दिया गया है। मैं दिल्ली जा रहा हूं और पहलवानों से मिलूंगा।

सम्बन्धित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

You cannot copy content of this page