सोनभद्र

Sonbhadra News : क्या आप पेट्रोल भरवाने जा रहे हैं तो हो जाएं सावधान ! और पढ़ें यह खबर

शान्तनु कुमार

★ मिलावटी पेट्रोल मिलने के बाद लोगों का हंगामा, पम्प सील

★ पेट्रोल की जगह पानी मिलने से कई गाड़िया खराब, धकेल कर पम्प पहुँचे लोग

★ स्थानीय क़स्बे मर्चरी हाउस के सामने स्थित एसएनबी फीलिंग स्टेशन का मामला

दुद्धी । स्थानीय क़स्बे के म्योरपुर रोड पर मर्चरी हाउस के सामने स्थित एक निजी पेट्रोल पंप पर सुबह 8 बजे से एक के बाद एक बाइक स्वामी पेट्रोल पंप पर पहुँचने लगे, पहले तो पम्प मालिक ग्राहक देख खुश हो गए लेकिन अगले पल बाइक सवार मिलावटी पेट्रोल दिए जाने का आरोप लगा कर हंगामा करने लगे । देखते ही देखते थोड़ी देर में दर्जनों  बाइक स्वामी एकत्रित हो गए । बाइक स्वामियों का आरोप था कि उक्त पेट्रोल पम्प पर सुबह तेल भरवाए और कुछ दूर आगे चल कर गाड़ी बंद हो गयी । बाइक की फ्यूल पाइप निकाल कर देखा तो पेट्रोल की जगह पानी निकलने लगा । जिन्हें दूर जाना था वे रिस्क लेने की स्थिति में नहीं थे और वे गाड़ी धकेल कर बारी-बारी से पेट्रोल पंप पहुँचने लगे।पम्प पहुँचे राजू सोनी, राजू शर्मा, बाबु लाल, पीयूष, गोविंद प्रसाद आदि ने कहा कि पानी मिले पेट्रोल से उनकी गाड़ी स्टार्ट नही हो रही । सभी लोग इस मामले में कार्रवाई की मांग करते हुए हर्जाने की मांग की ।
सूचना पर मौके पर पहुँचे प्रभारी निरीक्षक कुमुद शेखर सिंह ने हंगामा कर रहे लोगों को समझाया और लोगों का पैसा वापस कराया लेकिन लोगों में आक्रोश बना रहा कि कही उनके इंजन में कोई खामी ना आ गया हो । फिर भी वे बेमन से ही सही लेकिन बाइक लेकर धीरे-धीरे वहाँ से निकलने लगे । उधर इसी हंगामे के बीच पम्प पर पहुँचे पूर्ति निरीक्षक निर्मल सिंह ने लोगों की शिकायत की जांच की और मिलावटी तेल को देखा और उसका नमूना भी लिया । उन्होंने पेट्रोल पम्प को जांच रिपोर्ट आने तक वितरण पर रोक लगाते हुए सील कर दिया । उन्होंने बताया कि कंपनी के फील्ड अफसर को सूचना दे दी गयी है, जैसे ही रिपोर्ट आएगी अग्रिम कार्रवाई की जाएगी । उन्होंने कहा कि अगर मिलावटी पेट्रोल से किसी की गाड़ी खराब हो गयी हो तो उसे बनवाने का खर्च भी पम्प स्वामी वहन करेंगे ।

बहरहाल पूर्ति विभाग व पुलिस ने लोगों को समझा बुझा कर घर वापस तो भेज दिया मगर बड़ा सवाल यह है कि वे बाइक मालिक करें तो क्या करें, क्योंकि उनके गाड़ी के टँकी में जो पेट्रोल है वह मिलावटी है और उन्हें यह भी नहीं पता कि मिलावटी तेल ने उनके गाड़ी को कितना नुकसान पहुंचाया है ।

सम्बन्धित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

You cannot copy content of this page