सोनभद्र

Sonbhadra News : चाइल्ड लाइन और पुलिस की सक्रियता से ‘बालिका वधू’ बनने से बची किशोरी 

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

मो0नं0 – 7007444590

सोनभद्र । जिले के पन्नूगंज थाना क्षेत्र के एक गांव में नाबालिग की शादी कराने की तैयारी चल रही थी। सूचना पर शनिवार की रात में  पहुंची चाइल्ड लाइन और पुलिस की संयुक्त टीम ने नाबालिग की शादी को रुकवा दिया।

यह है पूरा मामला –

चाइल्ड हेल्पलाइन टीम को सूचना मिली कि पन्नूगंज थाना क्षेत्र में एक नाबालिक लड़की की शादी 10 मई 2024 को तय किया गया है। जिस लड़की की शादी तय हुई है, उसकी उम्र 14 वर्ष है। मामले की जानकारी होते ही जिला बाल संरक्षण अधिकारी पुनीत टंडन ने जिला बाल संरक्षण इकाई से सामाजिक कार्यकर्ता आकांक्षा उपाध्याय एवं चाइल्ड हेल्पलाइन यूनिट से सुपरवाईजर सुधा गिरि, धर्मवीर सिंह, काउन्सलर अमन कुमार सोनकर की संयुक्त टीम गठित कर नियमानुसार आवश्यक करने के लिए निर्देश दिया।

टीम ने पन्नूगंज थाने की पुलिस से समन्वय स्थापित करते हुए मौके पर पहुंचकर लड़की की उम्र के संबंध में साक्ष्य मांगा। प्राप्त साक्ष्य के आधार पर बालिका की उम्र 14 वर्ष पाया गया। इसके बाद टीम लड़की को अपने अभिरक्षा में लेते हुए पन्नूगंज थाने पर पहुंच गई। जिसके बाद चाइल्ड लाइन की टीम ने बालिका को बाल गृह बालिका इन्द्रपुरी कॉलोनी रॉबर्ट्सगंज में आवासित करवा दिया। 

ये भी पढ़ें – Sonbhadra News : बैठक में नहीं पहुँचे बिजली विभाग के एक्सईएन, नाराज डीएम ने रोका एक दिन का वेतन

जिला बाल संरक्षण इकाई की ओर से ओआरडब्ल्यू शेषमणि दुबे ने बताया कि “जनपद स्तर पर बाल विवाह रोकथाम के लिए विशेष अभियान चलाया जा रहा है साथ ही बाल विवाह से होने वाले हानियों के बारे मे भी बताया जा रहा है। उन्होंने कहा कि निर्धारित उम्र से कम समय का होने की स्थिति में बाल विवाह करने पर पुलिस विभाग की तरफ से विवाह करने वाले माता-पिता, विवाह में सम्मिलित होने वाले रिश्तेदार, विवाह कराने वाले पंडित के साथ अन्य के विरूद्ध कार्रवाई की जाएगी। यदि इस प्रकार की घटना के बारे में जानकारी प्राप्त होती है तो तत्काल चाइल्ड हेल्पलाइन टोल फ्री नंबर 1098 या फिर सम्बंधित थाने, बाल कल्याण समिति, जिला बाल संरक्षण इकाई, मोबाइल नम्बर 8318953732 पर सूचित करें।”

सम्बन्धित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

You cannot copy content of this page