धर्मसोनभद्र

Sonbhadra News : महाशिवरात्रि पर गुप्त काशी में उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़, हर – हर महादेव के उद्घोष से गूंजा इलाका

राजकुमार गुप्ता (संवाददाता)

घोरावल (सोनभद्र) । महाशिवरात्रि के पावन पर्व पर गुप्तकाशी शिवद्वार में शुक्रवार को शिवरात्रि के अवसर पर परंपरागत ऐतिहासिक मेला का शुभारंभ हुआ। 10 दिनों तक चलने वाले इस मेले में उमामहेश्वर की दिव्य प्रतिमा का दर्शन , पूजन एवं अभिषेक करने दूर दूर से आए श्रद्धालुओं का तांता देर शाम तक लगा रहा।अनुमान है कि शाम दो बजे तक 10 हजार से अधिक श्रद्धालुओं ने मंदिर में दर्शन पूजन किया।
बताते चलें कि सोनभद्र जिला मुख्यालय के दक्षिण-पश्चिम में 39 किलोमीटर दूर और घोरावल तहसील मुख्यालय के दक्षिण में 10 किलोमीटर दूर अवस्थित शिवद्वार धाम में उमामहेश्वर मंदिर में स्थापित 11 वीं सदी की आशुतोष भगवान शिवशंकर और आदिशक्ति माता भगवती की काले पत्थर से बनी साढ़े चार फीट ऊंची इस अद्वितीय मूर्ति का दर्शन करने दूर दूर से भक्तगण आते हैं। शिवद्वार धाम सोनभद्र जनपद में ही नहीं अपितु विंध्याचल मंडल में प्राचीन व अद्वितीय मूर्ति है।दर्शन करने वाले श्रद्धालुओं में सोनभद्र, मिर्जापुर, वाराणसी जनपद के अतिरिक्त मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ व झारखंड के भक्त गण भी थे। सुरक्षा व्यवस्था की कमान अपर पुलिस अधीक्षक आपरेशन त्रिभुवन नाथ त्रिपाठी जी,सी ओ दद्दन प्रसाद गौड़,एस एच ओ कमलेश पाल,एस एच ओ क्राइम मनोज कुमार के साथ ही एसडीएम घोरावल राजेश कुमार सिंह, नायब तहसीलदार सहित पचासों पीएसी, पुलिस व सब इंस्पेक्टर महीला कांस्टेबल लगे रहे।


मंदिर के पुजारियों व कलाकारों द्वारा उमामहेश्वर के अद्वितीय विग्रह का दिव्य श्रृंगार किया गया था। शनिवार को तड़के तीन बजे से ही मुख्य पुजारी सुरेश गिरी,अजय गिरि व शिवराज गिरि द्वारा मंगला आरती के बाद मंदिर के कपाट खोल दिए गए थे।भोर से लेकर शाम तक श्रद्धालुओं व दर्शनार्थियों का ताता लगा रहा।सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद रही।आपात स्थिति के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम मौजूद रही।साफ सफाई के लिए दर्जन भर सफाईकर्मी मौजूद रहे।मेले में पूजा सामग्री, श्रृंगार का सामान, मिठाई, खिलौने की सैकड़ों दुकाने लगी रही जहां दर्शनार्थियों ने बच्चों के साथ जमकर खरीदारी की। इस ऐतिहासिक मेले की पहचान गुड़हवा जलेबी का लोगों ने जमकर लुफ्त उठाया।
उधर भारी भीड़ की संभावना के मद्देनजर कोहरथा मार्ग पर पोखरे के पास,घोरावल शिवद्वार मार्ग पर इलाहाबाद बैंक के पास,आमडीह मार्ग व हिरनखुड़ी मार्ग पर बैरिकेडिंग करके गाड़ियों के आवागमन को रोक दिया गया था। वहां से दर्शनार्थियों यात्रियों को पैदल चलकर मंदिर तक जाना पड़ा। सुरक्षा के लिहाज से मेटल डिटेक्टर व सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में दर्शनार्थी दर्शन पूजन कर रहे थे
व्यवस्था को लेकर प्रशासन के साथ मिलकर आपदा मित्र व आपदा सखी द्वारा शिवद्वार धाम पर उपस्थित होकर मेला को सफल बनाने का कार्य किया गया जिसमें मेला में आए हुए सभी श्रद्धालुओं को आसानी पूर्वक दर्शन पूजन का कार्य कराया गया जिसमें भारी भरकम भीड़ को देखते हुए अलग-अलग स्थान पर आपदा मित्र की उपस्थिति लगाई गई जिसके कारण किसी प्रकार की कठिनाइयों का सामना नहीं करना पड़ा मौके पर उपस्थित आपदा मित्र दीपक कुमार मोदनवाल, शैलेश यादव, अमित कुमार, दीपक गिरी, संदीप कुमार मौर्य, अनुराग सिंह, रामसागर, आपदा सखी सुनीता मौर्य पूजा कुमारी खुशी मोदनवाल आदि मौके पर मौजूद रहे ।

सम्बन्धित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

You cannot copy content of this page