[metaslider id="38094"]
सोनभद्र

विद्यालय कायाकल्प की खुली पोल, ग्रामीणों के विरोध के बाद पुनः टाइल्स बिछाने की कवायद शुरू—

[metaslider id="38102"]

रमेश ( संवाददाता )

  • दुद्धी। उत्तर प्रदेश सरकार सर्व शिक्षा अभियान को सफल बनाने के लिए लगातार प्रयास कर रही है।सरकारी स्कूलों को मॉडल स्कूल बनाने के लिए स्कूलों का कायाकल्प किया जा रहा है लेकिन कायाकल्प को लेकर जिम्मेदार विभाग किस कदर अपनी कोरम पूरा कर रहे हैं इसका खुलासा सोमवार को छतरपुर गांव के ग्रामीणों के द्वारा करते ही हड़कंप मच गई।आनन फानन में ग्राम प्रधान और जेई मौके पर पहुचकर एसएमसी अध्यक्ष सहित अन्य ग्रामीणों को समझाने का प्रयास करने लगे और मान मनौवल करते हुए पुनः टाइल्स लगाने की कवायद शुरू हो गई।जिम्मेदार लोगों ने तत्काल टाईल्स को हटाने में जुट गए और ग्रामीणों को भरोसा दिलाया गया कि पुनः अच्छे सीमेंट के साथ टाईल्स बिछाई जाएगी।
  • एसएमसी अध्यक्ष सुरेश प्रसाद सहित अन्य ग्रामीणों ने बताया कि कई दिनों से विद्यालय में कायाकल्प का कार्य चल रहा था।बच्चे आपस में चर्चा कर रहे थे कि स्कूल के फर्श बनत हउ और उखड़ल जात हउ।इसके बाद हमलोगों ने जब जाकर देखा तो नाममात्र के सीमेंट डालकर टाईल्स जमाई गई थी जो पैर से और हाथों से ही उखड़ जा रही थी, जिसकी शिकायत हमलोगों ने ग्राम प्रधान सहित सम्बंधित जेई को किया।तब जाकर सोमवार को दोपहर बाद मौके पर पहुचे जेई द्वारा टाईल्स लगाने के लिए दूसरी सीमेंट भेजवाई गई और टाईल्स पुनः लगाने के लिए हिदायद दी।
  • ग्रामीणों का कहना है कि सरकार भले ही जीरो टॉलरेंस की बात कर रही है और इसके लिए दृढ़ संकल्पित भी है लेकिन जिम्मेदार अधिकारी जब तक अपनी जिम्मेदारी सही ढंग से नही निभाएंगे तब तक गांव का सम्पूर्ण विकास सम्भव नहीं है।
  • एसएमसी अध्यक्ष सुरेश प्रसाद,रामसेवक, मुन्ना साव,राजेन्द्र, शम्भू, प्रेमचंद सहित अन्य ग्रामीणों ने कम्पोजिट विद्यालय छतरपुर में की जा रही घटिया कायाकल्प की जांच की मांग की है।

[metaslider id="38110"]

सम्बन्धित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button