सोनभद्र

Sonbhadra News : ब्लड सेंटर में निगेटिव ग्रुप के ब्लड का टोटा, हो सकती है मुश्किल

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

मो0नं0 – 7007444590

सोनभद्र । निगेटिव ब्लड ग्रुप वाले लोगों के लिए बुरी खबर है। पुराने जिला अस्पताल परिसर स्थित ब्लड सेंटर में निगेटिव ग्रुप के ब्लड की अत्यंत कमी है। मौजूदा समय में ‘ए’ निगेटिव ग्रुप के मात्र एक यूनिट ही ब्लड उपलब्ध है। ऐसे में यदि किसी हादसे में घायल मरीज को निगेटिव ग्रुप के ब्लड की जरूरत होती है तो इसके लिए उनके तीमारदारों को बड़ी मुश्किल का सामना करना पड़ सकता है। हालांकि पॉजिटिव ग्रुप के 31 यूनिट ब्लड मौजूद हैं।

खून के लिए मरीजों व उनके तीमारदारों को इधर-उधर न भटकना पड़े, इसके लिए लगभग एक दशक पूर्व पुराने जिला अस्पताल परिसर में ब्लड बैंक की स्थापना की गई थी। स्थापना के बाद इसका व्यापक लाभ भी मरीजों व उनके तीमारदारों को मिल रहा है। आए दिन शिविर के माध्यम से विभिन्न संगठनों से जुड़े लोग रक्तदान भी करते रहते हैं। इसी बीच आज ब्लड सेंटर पहुँच न्यूज़ live की टीम ने जायजा लिया, तो एक चौंकाने वाला तथ्य सामने आये। जानकारी दी गई कि 500 यूनिट क्षमता वाले ब्लड बैंक में मौजूदा समय में निगेटिव ग्रुप के ब्लड का टोटा है।

क्या बोले जिम्मेदार –

ब्लड बैंक प्रभारी डॉ0 अशोक कुमार ने बताया कि “मौजूदा समय में कुल 32 यूनिट ब्लड है। इसमें 29 यूनिट ‘ओ’ पॉजिटिव, 2 यूनिट “बी” पॉजिटिव तथा 1 यूनिट “ए” निगेटिव ब्लड मौजूद है साथ ही दो यूनिट ‘ओ’ पॉजिटिव तथा एक-एक यूनिट “ए” पॉजिटिव तथा “बी” पॉजिटिव प्लेटलेट्स भी मौजूद है। बताया कि वैसे तो निगेटिव ग्रुप के ब्लड की कमी अक्सर रहती है, लेकिन बीते एक सप्ताह से इसका पूरी तरह टोटा पड़ा हुआ है। यह संयोग ही है कि इस बीच निगेटिव ग्रुप के ब्लड की आवश्यकता भी कम ही पड़ी है। अन्यथा संबंधित मरीज व उनके तीमारदारों को व्यापक मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता था। निगेटिव ग्रुप ब्लड वाले रक्तदानियों की सूची कार्यालय में मौजूद है। ऐसे में यदि इमरजेंसी में निगेटिव ग्रुप के ब्लड की जरूरत पड़ती है, तो तत्काल सूची में मौजूद रक्तदानियों से संपर्क किया जाएगा।”

सम्बन्धित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button