सोनभद्र

Sonbhadra News : एक दर्जन अवैध और मानक विहीन अस्पतालों पर चला स्वास्थ्य विभाग का हंटर

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

मो0नं0 – 7007444590

सोनभद्र । एक तरफ जहाँ जुगाड़ सिस्टम से संचालित हो रहे अस्पतालों में डीएम चंद्र विजय सिंह के निर्देश पर स्वास्थ्य महकमे की ओर से चलाए जा रहे छापेमारी/औचक चेकिंग अभियान से हड़कंप की स्थिति बनी हुई है। बुधवार को घोरावल थाना क्षेत्र अंतर्गत ज़ब नोडल अधिकारी डॉ0 गुलाब शंकर यादव ने छापेमारी की तो बगैर पंजीयन और मानक विहीन तरीके से संचालित अस्पतालों की पोल खुल गयी। जिसके बाद नोडल अधिकारी ने 4 अस्पतालों को सील तथा 8 अस्पतालों की ओटी सील करते हुए नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है। तय समय में जवाब नहीं मिलने पर FIR की चेतावनी भी दी है।

डीएम के निर्देश पर नोडल अधिकारी डॉ0 जीएस यादव ने घोरावल क्षेत्र में संचालित अस्पतालों का निरीक्षण किया। विश्वास हॉस्पिटल दिवा रोड और मालती हॉस्पिटल शिवद्वार रोड़ बिना पंजीकरण के अवैध रूप से संचालित थे। दोनों सील करते हुए नोटिस जारी की। दोबारा अस्पताल संचालित होने पर एफआईआर दर्ज कराने की चेतावनी दी। उन्नत मेडिसिटी हॉस्पिटल, प्रतिभा हॉस्पिटल, न्यू प्रति हॉस्पिटल, शिवद्वार हॉस्पिटल और द ओम हॉस्पिटल में चिकित्सक नहीं मिले। मानक के अनुरूप ओटी नहीं पाए जाने पर ओटी बंद करते चेतावनी जारी की। किसी प्रकार का सर्जिकल कार्य न करने की हिदायत दी। शिव महिमा हॉस्पिटल मुक्खा मोड़ का भवन के मानक अनुरूप नहीं था। डॉक्टर भी अनुपस्थित मिले। अस्पताल की ओटी और आईपीडी बंद कर दिया गया। हॉस्पिटल बंद करने की चेतावनी देते हुए नोटिस जारी कर नवीनीकरण आवेदन को निरस्त कर दिया। ओम साईंनाथ हॉस्पिटल और ऊर्जांचल हॉस्पिटल एवं सर्जिकल सेंटर में मानक के अनुरूप ओटी नहीं पाए जाने पर उसे बंद करते चेतावनी जारी की। सम्राट हॉस्पिटल और जीवन ज्योति मैटर्निटी हॉस्पिटल में नवीनीकरण के लिए प्राप्त पत्रावली पूर्ण न होने और मौके पर कोई भी चिकित्सक व पैरामेडिकल स्टाफ डिग्री धारी न होने पर हॉस्पिटल को सील करते हुए आवेदन को निरस्त कर दिया। एलजे हॉस्पिटल और पीसीएम हॉस्पिटल में चिकित्सक मौजूद थे। भवन भी मानक के अनुरूप था। बायो मेडिकल का निस्तारण नियमानुसार नहीं होने पर नोटिस जारी कर चेतावनी दी।

सम्बन्धित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button