सोनभद्र

यूपी बोर्ड परीक्षा के लिए 4 जोन और 12 सेक्टर में बांटा गया जिला

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

बोर्ड परीक्षा में शिथिलता बरतने वाले अधिकारियों के विरूद्ध की जायेगी कड़ी कार्यवाही – डीएम

बोर्ड परीक्षा को नकल विहीन सम्पन्न कराने हेतु 4 जोनल मजिस्ट्रेट, 12 सेक्टर मजिस्ट्रेट, 80 स्टेटिक मजिस्ट्रेट, 80 केन्द्र व्यवस्थापक, 80 वाह्य केन्द्र व्यवस्थापक व 5 संचल दल का किया गया गठन

सोनभद्र । जिलाधिकारी चन्द्र विजय सिंह की अध्यक्षता में आज चुर्क स्थित स्वामी हरसेवानन्द डिग्री कालेज में बोर्ड परीक्षा के मद्देनजर नकल की रोकथाम तथा अनुचित साधन प्रयोग की प्रवृत्ति/संभावनाओं पर अंकुश लगाने हेतु बैठक की गयी। बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि माध्यमिक शिक्षा परिषद उत्तर प्रदेश प्रयागराज द्वारा हाईस्कूल व इण्टरमीडिएट बोर्ड परीक्षा आगामी 16 फरवरी से प्रारंभ हो रही है। परीक्षा की शुचिता, पवित्रता, गुणवत्ता एवं विश्वसनीयता तथा विधि व्यवस्था अक्षुण्य रखते हुए बोर्ड परीक्षा को सम्पन्न कराना है। उन्होंने कहा कि जनपद सोनभद्र में बोर्ड परीक्षा के लिए कुल 80 परीक्षा केन्द्र निर्धारित है, सभी परीक्षा केन्द्रों पर केन्द्र व्यवस्थापक की तैनाती की जा चुकी है तथा प्रत्येक केन्द्र पर एक अतिरिक्त वाह्य केन्द्र व्यवस्थापक की तैनाती कर दी गयी है कुल 80 वाह्य केन्द्र व्यवस्थापक तैनात किये गये हैं, प्रत्येक परीक्षा केन्द्र पर एक स्टैटिक मजिस्ट्रेट तथा 12 सेक्टर मजिस्ट्रेट की तैनाती की गयी है। जिले में 4 जोनल मजिस्ट्रेट के रूप में सम्बन्धित तहसील के उप जिलाधिकारी को नामित किया गया है, जो भ्रमणशील रहकर अपने तहसील के परीक्षा केन्द्रों का समय-समय पर निरीक्षण करते रहेंगें। जिलाधिकारी ने कहा कि परीक्षा के दौरान इस बात का विशेष ध्यान रखा जाये कि परीक्षा केन्द्र पर किसी प्रकार से अनुचित साधन का प्रयोग व नकल न होने पाये, जो छात्र-छात्रा परीक्षा की तैयारी हेतु मेहनत किये हैं, उनकी मेहनत के अनुरूप परिणाम प्राप्त हो, नकल की प्रवृत्ति होने पर अनुचित साधन का प्रयोग कर पास होने वाले छात्र-छात्रा आगे चलकर किसी प्रतियोगी परीक्षा को पास करने में असमर्थ रहते हैं, इसलिए नकल विहीन परीक्षा कराने के लिए सम्बन्धितगण अपनी महत्वपूर्ण भूमिका को जिम्मेदारी के साथ निर्वहन करना सुनिश्चित करें, इसमें किसी भी स्तर पर शिथिलता व लापरवाही न बरते, लापरवाही बरतने पर सम्बन्धित अधिकारी के विरूद्ध कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी।

जिलाधिकारी ने कहा कि परीक्षा केन्द्रों पर किसी प्रकार की नकल समग्री छात्र-छात्राओं द्वारा नहीं लायी जायेगी, स्ट्रांगरूम में प्रवेश के लिए एक लाॅकबुक रजिस्टर रखा जाये, जिसमें तिथि, समय एवं उद्देश्य सहित आने जाने वाले अधिकारी का पूर्ण विवरण अंकित किया जाये, स्ट्रांगरूम जिसमें डबल लाॅक आलमारी रखी है, को स्टेटिक मजिस्ट्रेट, केन्द्र व्यवस्थापक एवं वाह्य केन्द्र व्यवस्थापक की उपस्थिति में परीक्षा आरंभ होने के एक घंटा पूर्व खोले जाने तथा परीक्षा समाप्त के एक घण्टा उपरान्त लाॅक/सील किया जाये। प्रत्येक बार परीक्षा के प्रयोजन से डबल लाॅक आलमारी के पश्चात दोनों लाॅक हस्ताक्षरित पेपर से सील किये जायें, पेपर सील पर केन्द्र व्यवस्थापक, वाह्य केन्द्र व्यवस्थापक तथा स्टेटिक मजिस्ट्रेट के हस्ताक्षर नाम, पदनाम अनिवार्य होंगें।

इस दौरान अपर पुलिस अधीक्षक कालू सिह, जिला विद्यालय निरीक्षक राजेन्द्र यादव, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी हरिवंश कुमार, अपर जिला सूचना अधिकारी विनय कुमार सिंह सहित अन्य सम्बन्धितगण उपस्थित रहे।
——————————————–
जिला सूचना कार्यालय, सोनभद्र द्वारा जनहित में प्रसारित।
————————————

सम्बन्धित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button