सोनभद्र

नकली नोट की गड्डी बनाकर ठगी करने वाले अंतरप्रांतीय गैंग के तीन सदस्य गिरफ्तार

आनंद कुमार चौबे/अंशु खत्री (संवाददाता)

सोनभद्र । आज क्राइम ब्रांच व रॉबर्ट्सगंज पुलिस ने गत 4 जनवरी को नोट की नकली गड्डी बनाकर व्यापारी से 30 हजार रुपये की ठगी करने वाले अन्तरप्रान्तीय गैंग के तीन सदस्यों को गिरफ्तार कर अभियुक्तों के पास से ऊपर-नीचे पांच सौ के असली नोट लगे पांच अलग-अलग कागज की गड्डी, ऊपर-नीचे पचास के असली नोट लगे चार अलग-अलग कागज की गड्डी, एक नकली पिस्टल लाइटरयुक्त, 9500 रुपए नकद, रुपये के आकार का कागज तैयार किये जाने हेतु मोटे कागज का सांचा और दो कुटरचित सेना का परिचय पत्र व इण्डियन आर्मी लिखी हुई सेना की वर्दी व जूता बरामद किया है।

अपर पुलिस अधीक्षक विजय शंकर मिश्रा ने प्रेस कांफ्रेंस कर मामले का खुलासा करते हुए बताया कि “गत 29 जनवरी को निराला नगर दरोगा जी गली निवासी व्यापारी अनिल कुमार सिंह पुत्र गुलाब सिंह ने रॉबर्ट्सगंज कोतवाली में तहरीर देकर बताया कि 4 जनवरी 2023 को उनके दुकान अनिल ड्रेसेज पर एक व्यक्ति मुंह बांधे व दो व्यक्ति बिना मुंह बांधे आये। उन्होने कहा कि आप के दुकान से खरीदारी करनी है तत्पश्चात् काली पन्नी में लिपटी सौ-सौ की पांच नोटो की गड्डी देकर पांच-पांच सौ के नोट की तीस हजार रुपये की मांग की, जिस पर उन्होंने अपने गल्ले से पांच-पांच सौ के कुल तीस हजार रुपये उन्हे दे दिया। तत्पश्चात् कुछ बातों में उलझाकर वहां से गायब हो गया। जब उनके द्वारा दी गयी नोटो की गड्डी में से एक को खोलकर चेक किया तो गड्डी के उपर व नीचे सौ-सौ की नोट लगी थी तथा बीच में सफेद कागज रखा मिला जिस पर वह समझ गया कि पैसा देकर जाने वाले व्यक्ति ठग थे। ठगों द्वारा पुन: उनके मोबाइल पर फोन कर झांसे में लेकर फिर से रुपये की मांग की जा रही थी। जिस पर रॉबर्ट्सगंज थाने पर तीन अज्ञात व्यक्तियों के विरुद्ध धारा 420, 406 भादवि का अभियोग पंजीकृत किया कर आरोपियों की तलाश की जा रही थी। इसी क्रम में आज मुखबिर की सूचना पर क्राइम ब्रांच व रॉबर्ट्सगंज पुलिस की संयुक्त टीम ने रेलवे क्रासिंग के पास से तीन अभियुक्तों रवि कुमार बिन्द उर्फ बुल्लू पुत्र रामकृत राम निवासी हाटा, थाना मुहम्दाबाद (गाजीपुर), शिवपुजन कुमार पुत्र उमाशंकर यादव निवासी जाबर थाना दुद्धी तथा संदीप कुमार चौधरी पुत्र जयराम चौधरी निवासी वार्ड नं0- 11 घुरडांग आदर्श नगर थाना कोलगांवा-सतना (मध्यप्रदेश) को गिरफ्तार किया गया तथा उनके पास से नोट की नकली गड्डी बनाने के उपकरण, सेना की वर्दी, सेना की फर्जी परिचय पत्र बरामद किया गया है। पूछताछ के दौरान अभियुक्त रवि कुमार ने बताया गया कि उसके घर कुछ लोग आर्मी में हैं जिनके साथ रहते-रहते उनकी नकल कर ली और टोपी, बेल्ट, जूता व सेना की वर्दी खरीदकर कुटरचित पता व जाति अंकित कर कम्प्यूटर से फर्जी आईडी कार्ड तैयार कर लिया। ठगी के दौरान वह लोगों को खुद को सेना का जवान तथा अन्य दो साथियों को सेना का चतुर्थ श्रेणी का कर्मचारी बताता है। वह लोग अपने साधनों से नोट के आकार के पेपर काटकर उसके ऊपर-नीचे असली नोट लगाकर नोट की गड्डी जैसा तैयार कर बैंक के आस-पास व दुकानों में जाकर इन्हीं नकली गड्डियों को देकर असली नोट की गड्डी लेकर ठगी करते हैं। उन्होंने माह नवम्बर में रेनूकुट में एक व्यक्ति को नकली दो लाख रुपये की गड्डी देकर उससे दो लाख रुपये ठग लिये थे तथा मुम्बई के थाणे क्षेत्र में भी इसी तरह 2022 में 20 लाख रुपये की ठगी किया था। उसने बताया कि सेना की वर्दी पहनकर ठगी करने पर लोग जल्दी झासें में आ जाते हैं। गिरफ्तारी/बरामदगी के आधार पर धारा 420, 406 भादवि में धारा 419, 467, 468, 471 व 171 भादवि की बढ़ोत्तरी की गयी है।”

गिरफ्तार करने वाले पुलिस टीम –

1. प्रभारी निरीक्षक बाल मुकुन्द मिश्रा थाना रॉबर्ट्सगंज

2. निरीक्षक साजिद सिद्दीकी प्रभारी सर्विलांस टीम

3. निरीक्षक देवेन्द्र प्रताप सिंह प्रभारी एसओजी

4. उ0नि0 बालेन्द्र यादव चौकी प्रभारी कांशीराम आवास

सम्बन्धित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button