Monday , September 26 2022

जिला कारागार में आजादी अमृत महोत्सव पर्व पर महिला पुरुष बंदियों ने तिरंगे के निर्माण कार्य की मेहनत रंग लाई

राकेश चौबे
– भारतीय सेना छावनी बोर्ड, पुलिस न्याय पालिका को 10 हजार बंदियों द्वारा बनाए गए तिरंगा किया गया भेंट

शाहजहांपुर । जिला कारागार शाहजहांपुर में महिला पुरुष बंदियों ने भी आजादी की अमृत महोत्सव पर्व के लिए तिरंगे निर्माण कार्य में कमर कसते उनकी कड़ी मेहनत रंग लाई। उनकी भावनाओं को देखते हुए जिला प्रशासन समेत सेना के विभागीय अधिकारियों ने भी प्रशंसा की।
उक्त सम्बन्ध में जिला कारागार के अधीक्षक मिजाजी लाल ने प्रेस विज्ञप्ति में बताया कि हर घर तिरंगा, उत्सव मनाने में और तिरंगों की उपलब्धता सुनिश्चित करने तथा देश प्रेम की भावना से ओत-प्रोत होकर जेल में कैदियों द्वारा बड़े पैमाने पर कड़ी मेहनत कर के तिरंगे तैयार किये जा रहे हैं। उन्होंने आगे बताया कि विभिन्न स्वयं सेवी संगठनों , समाजसेवीयो द्वारा भेंट की जा रही सामग्रियों से कारागार प्रशासन ने भारतीय सेना, छावनी बोर्ड, पुलिस प्रशासन, न्याय पालिका, कारागार मुख्यालय लखनऊ, पत्रकार बंधुओं अन्य विभिन्न सामाजिक संगठनों तथा जनसामान्य को निःशुल्क झण्डा भेंट किए जा रहे हैं। कारागार में बंदियों द्वारा अब तक 10 हजार तिरंगा सेना छावनी बोर्ड, पुलिस, न्याय पालिका इत्यादि लोगों को भेंट किए जा चुके हैं। जिसमें मुख्य रूप से जनपद के पुलिस कप्तान डाक्टर एस आनंद, भारतीय सेना में कर्नल बी के मिश्र को भी कारागार पर ही तिरंगे भेंट किए गए। इसी दौरान कर्नल बी के मिश्र तिरंगा बनाने वाले बंदियों से मिल कर उनकी कड़ी मेहनत की प्रशंसा करते हुए उनका उत्साह वर्धन किया। इसी क्रम में छावनी बोर्ड की मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिज्ञासा राज भी कारागार पधारीऔर उन्हें भी 1200 तिरंगा भेंट किया गया। और बनाने वाले महिला पुरुष बंदियों को उपहार दे कर सम्मानित किया।
हर घर तिरंगा उत्सव में अपने योगदान से कारागार के अधिकारी, स्टाप और सभी महिला पुरुष बंदी अपने आप में गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com