Monday , September 26 2022

…जब पिता को अपने बेटे का शव कंधे पर रखकर जाना पड़ा घर

कभी-कभी समाज में कुछ ऐसी घटनाएं घट जाती है जिसे शब्दों में व्यक्त करना न सिर्फ कठिन हो जाता है बल्कि दिल को भी झकझोर देता है । ऐसा ही मामला इन दिनों सोशल मीडिया पर खूब ट्रेंड हो रहा है । मामला संगम नगरी प्रयागराज का है, जहां एक बाप अपने बेटे के शव को कंधों पर लादकर घर ले जा रहा है । बताया जा रहा है कि बीमार बेटे की अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गयी थी । जिसके बाद गरीब बाप को अस्पताल प्रशासन की तरफ से एम्बुलेंस की व्यवस्था नहीं कराई गई । बेटे के मौत के बाद गम में डूबा पिता कई बार अस्पताल प्रशासन से एम्बुलेंस के लिए गुहार लगाता रहा लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई ।
आखिरकार थक हार कर पति-पत्नी ने पैसे के अभाव में जवान बेटे के शव को कंधे पर लादकर पैदल गांव की तरफ निकल पड़े । रास्ते में इस मंजर को जिसने भी देखा सत्र रह गया । बेटे के शव को ले जाते समय जब पिता थक जाता था तो मां कंधों पर लेकर चलती थी।

बारी-बारी से अपने कंधे पर बेटे के शव को लादकर लगभग 25 किमी0 की दूरी तय करने के बाद पति-पत्नी बेटे के शव को लेकर अपने गांव डीहा पहुंचे । इस दौरान रास्ते में तमाम लोग मिलते रहे और मामले के बारे में पूछते रहे मगर किसी ने उसकी मदद तक नहीं क़ी । इसी बीच किसी ने इस पूरे मामले को अपने कैमरे में कैदकर सोशल मीडिया पर डाल दिया । जिसके बाद यह मामला तूल पकड़ा तो कमिश्नर ने पूरे प्रकरण की जांच कर कार्यवाही की बात कही है ।

बहरहाल एक मां-बाप के लिए इससे बुरा और क्या हो सकता है कि उसका जवान बेटा मर जाए और उसे अपने कंधों पर उठाकर ले जाना पड़े । लेकिन इस पूरे मामले ने योगी सरकार के व्यवस्था की पोल खोलकर रख दी और यह भी बता दिया कि स्वास्थ्य मंत्री दौरा कर भले निर्देश व चेतावनी देते हों मगर विभाग में मनमानी चलेगी तो डॉक्टरों की ही ।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com