Monday , September 26 2022

विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समीति की बैठक सम्पन्न

कृपाशंकर पांडेय (संवाददाता)

अोबरा/- आज विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति ओबरा तापीय परियोजना की‌ एक आवश्यक बैठक अजय सिंह की अध्यक्षता में उत्तर प्रदेश विद्युत मजदूर संघ कार्यालय पर संपन्न कराया गया इस बैठक को संबोधित करते हुए हरदेव नारायण तिवारी ने कहा की मुख्य महाप्रबंधक मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश सरकार के मंशा सबका साथ, सबका विश्वास, सबका विकास के ‌ सिद्धांतों के विपरीत अध्यक्ष उत्तर प्रदेश राज्य विद्युत उत्पादन निगम लिमिटेड के निर्देशों के बावजूद ओबरा परियोजना में अवैध अध्ययासन को रिक्त कराए जाने में दोहरे मापदंड अपनाए जाने का विषय संघर्ष समिति के संज्ञान में है ,अवैध अध्यासन के नाम पर सिर्फ संविदा कर्मियों को आवास से निकाला जा रहा है जोकि प्रत्यक्ष व परोक्ष रूप से विद्युत उत्पादन में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन कर रहे हैं ।इसके विपरीत जिनका परियोजना उत्पादन से कोई सरोकार नहीं है उन्हें मनमाने तरीके से आवासों को बांट कर अवैध अध्यासन कराया जा रहा है। जिस पर संघर्ष समिति के समस्त घटक दलों ने कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर की है व कर्मचारियों में प्रबंधक के कृतयों एवं कार्यप्रणाली को लेकर गहरा असंतोष नाराजगी व्याप्त है ।
समस्त घटक दलों द्वारा 4 सूत्रीय मांगों को लेकर एकमत से निर्णय लिया गया कि यदि प्रबंधन ज्वलंत समस्याओं का तत्काल निराकरण नहीं कराता है तो संघर्ष समिति आंदोलन करने को बाध्य होगी। बैठक में प्रमुख रूप से समस्त घटक दलों के पदाधिकारी योगेंद्र प्रसाद, प्रहलाद शर्मा, पशुपतिनाथ विश्वकर्मा, लालचंद, आरपी त्रिपाठी, धुरंधर शर्मा, नवीन चावला, अंकित प्रकाश, विंध्याचल, विजय कुमार सिंह , विनोद सिंह यादव, उमेश चंद्र , बृजेश कुमार यादव, सतीश कुमार ,विजय सिंह, राम यज्ञ मौर्य नरसिंह त्रिपाठी, ‌ बनारसी प्रजापति एवं समस्त घटक दलों के अध्यक्ष मंत्री उपस्थित रहे।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com