Friday , September 30 2022

21 जुलाई को आएगा राष्ट्रपति का रिजल्ट, लेकिन क्रॉस वोटिंग ने विपक्ष की बढ़ाई चिंता

देश के 15वें राष्ट्रपति के चुनाव में सांसदों-विधायकों ने सोमवार को अपने मताधिकार का भरपूर इस्तेमाल किया। मतदाता सूची में शामिल 4,796 सांसदों एवं विधायकों में से 99 प्रतिशत से अधिक ने अपने मताधिकार का उपयोग किया।

राष्ट्रपति चुनाव को लेकर सुबह से ही संसद भवन में सांसदों के बीच भारी उत्साह देखा गया । सुबह 10 बजे मतदान शुरू होते ही एनडीए के सांसद वोट देने के लिए लंबी कतार में खड़े हो गए ।

राष्ट्रपति चुनाव के लिए एनडीए की ओर से द्रौपदी मुर्मू और यूपीए की ओर से यशवंत सिन्हा प्रत्याशी है। सोमवार को मतदान का समय शुरू होते ही सबसे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विधानभवन स्थित मतदान कक्ष तिलक हॉल पहुंचे। मुख्यमंत्री ने सबसे पहले मतदान किया।

क्रास वोटिंग की शिकायतें सबसे ज्यादा विपक्षी खेमे से ही आई हैं। इसका नुकसान जहां सिन्हा को होगा, वहीं इसकी वजह से द्रौपदी मुर्मू की जीत का फासला भी बढ़ेगा। बरेली में पेट्रोल पंप पर बुलडोजर चलने के कारण चर्चा में आए सपा विधायक सहजिल इस्लाम की ओर से भी क्रास वोट करने की आशंका जताई है। सहजिल मतदान से पहले और मतदान के बाद भी द्रौपदी मुर्मू समर्थक शिवपाल यादव के साथ नजर आए थे। वहीं पिछली सरकार में मंत्री सहित करीब आधा दर्जन से अधिक सपा विधायकों की ओर से क्रास वोटिंग करने की आशंका जताई जा रही है।

राष्ट्रपति चुनाव के लिए वोटों की गिनती 21 जुलाई को होगी और 25 जुलाई को नए राष्ट्रपति को शपथ दिलाई जाएगी ।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com