Monday , October 3 2022

शांतिपूर्ण ढंग से मनी उभ्भा कांड की तीसरी बरसी

राजकुमार गुप्ता (संवाददाता)

घोरावल । उभ्भा कांड की तीसरी बरसी पर मृतकों के परिजन घटनास्थल पर कोई कार्यक्रम नही कर सके। मन ही मन उन्हें दुख रहा। प्रशासन द्वारा अनुमति न होने के बावजूद उभ्भा कांड की बरशी पर आदिवासी लोग कार्यक्रम मनाना चाहते थे। गांव में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बावजूद रविवार की सुबह दस बजे के लगभग करीब 40 लोग कांग्रेस जिलाध्यक्ष रामराज गोंड़ के आवास पर एकत्रित हो गए।इनमें से मृतकों के दर्जन भर परिजन अपने अपने हांथों में उभ्भा कांड में मारे गए अपने परिजनों की तस्वीरें लेकर पहुंचे।वहां से सभी लोग कार्यक्रम के लिए घटनास्थल पर जाने लगे।इसकी सूचना मिलते ही मौके पर तत्काल तहसीलदार ज्ञानेंद्र यादव, सीओ संजीव कटियार, प्रभारी निरीक्षक गोपालजी,उभ्भा चौकी प्रभारी बालेंद्र यादव वहां पहुंचे और सभी को प्राथमिक विद्यालय के पास रोक दिया।पुलिस प्रशासन ने सभी को अपने अपने घरों में बरशी व श्रद्धांजलि कार्यक्रम मनाने के लिए कहा।इसके बाद कांग्रेस जिलाध्यक्ष रामराज गोंड़ के नेतृत्व में उभ्भा कांड में मारे गए आदिवासियों के परिजनों ने राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन तहसीलदार ज्ञानेंद्र यादव को दिया।ज्ञापन में कहा गया है कि उभ्भा कांड में शहीद 11 आदिवासियों की स्मृति में घटनास्थल पर शहीद स्मारक बनाने के लिए जमीन उपलब्ध कराई जाए।शहीद स्मारक बनाने के साथ ही घटनास्थल पर सामुदायिक भवन बनाया जाए ताकि बारिश का मौसम होने के कारण बरशी मनाने में आदिवासियों को कोई दिक्कत न हो।मुख्यमंत्री द्वारा शिक्षा व्यवस्था, बिजली व्यवस्था, सिंचाई, सुरक्षा इत्यादि के लिए किए गए घोषणाओं को पूरा किया जाए।ज्ञापन देकर सभी आदिवासी अपने घर लौट गए।
वहीं उभ्भा कांड की तीसरी बरशी के दिन रविवार को उभ्भा गांव पुलिस छावनी में तब्दील रहा। प्राथमिक विद्यालय उभ्भा, घटनास्थल समेत आसपास के जगहों पर बैरिकेडिंग व पुलिस की सख्त नाकेबंदी रही।वहीं गांव में पूरे दिन जिले एवं तहसील के आला अफसरों समेत खुफिया एजेंसियों के लोग डटे रहे। रविवार को मृतकों की बरशी मनाए जाने के मद्देनजर पुलिस प्रशासन पहले से ही सतर्क था।एसडीएम श्याम प्रताप सिंह, तहसीलदार ज्ञानेंद्र यादव, सीओ संजीव कटियार, प्रभारी निरीक्षक गोपालजी, उभ्भा चौकी प्रभारी बालेंद्र यादव लगातार उभ्भा में लगातार डटे रहे। उधर उभ्भा गांव एवं आस पास के इलाके में सुरक्षा के कड़े इंतजाम रहे।आधे दर्जन थानों की पुलिस फोर्स व पीएसी गांव में डटी रही।रविवार को जिला मुख्यालय से अपर जिलाधिकारी सहदेव मिश्रा व अपर पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार उभ्भा पहुंचकर बरशी के मद्देनजर होने वाली गतिविधियों व हालात का जायजा लिया।

previous arrow
next arrow

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com