Sunday , September 25 2022

ग्रामीण इलाकों में बारिश के लिए तरह-तरह के किये जा रहे उपाय व टोटके मगर प्रसन्न नहीं हुए भगवान इंद्र

आर के (संवाददाता)

सागोबांध । मनुष्यों में भगवान के प्रति इतनी आस्था और विश्वास है कि वैज्ञानिकता को नजरअंदाज करके सब कुछ भगवान पर छोड़ देता हैं। आजकल ग्रामीण इलाकों में बारिश के लिए देवी देवताओं को प्रसन्न करने के लिए लोग तरह-तरह के टोटके कर रहे हैं । जुलाई का दूसरा सप्ताह भी बीत गया मगर मौसम की बेरुखी से किसान परेशान है। सुबह से ही भगवान भास्कर की तपिश और गर्मी अपनी चरम पर है। किसानों के शस्य हरित सुख कर मुरझा गए हैं। किसान जब अपने मुरझाए हुए फसलों को देखता है तो उसका पूरा शरीर भी मुरझा जाता है। बारिश की आस में ग्रामीण कई तरह के टोटके आजमा चुके लेकिन बारिश का कोई अता पता नहीं चला। छत्तीसगढ़ सीमा से सटे सागोबांध में महादानी घूटरा में लगातार सोमवार से अखंड कीर्तन चल रहा है। लोगों का मानना है कि महादानी घूटरा में बारिश के लिए अखंड किया जाता है तो तुरंत ही बारिश हो जाता है । मगर करीब सप्ताह भर अखंड कीर्तन होने के बावजूद भी भगवान इंद्र देव की कृपा नहीं बरसी। यहां पर कई गांव के लोग बारी-बारी से अखंड कीर्तन करने आ रहे हैं। ग्रामीणों का कहना है कि जब तक बारिश नहीं होगा तब तक अखंड कीर्तन हम लोग करते रहेंगे। कई गांव में बारिश के लिए मेंढक-मेढकी की शादी, पीपल के पेड़ पर जल चढ़ाना, देवी स्थलों पर मनौती किया जा रहा है मगर किसी भी तरह से भगवान इंद्र देव की कृपा नहीं हो रही है।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com