Friday , September 23 2022

पुलिस ने छात्र-छात्राओं को साइबर अपराध के प्रति किया जागरूक

संजय केसरी / अर्जुन मौर्या (संवाददाता)

डाला। आदित्य बिरला इंटर मिडियड कॉलेज के हजारों छात्र छात्राओं को एसेंबली मैदान में बुधवार की दोपहर एक बजे डाला चौकी प्रभारी मनोज कुमार ठाकुर द्वारा साइबर अपराध डिजिटल डिवाइस के द्वारा डिजिटल स्पेश में वर्चुअली किया गया क्राइम, साइबर अपराध कहलाता है, जिसके बारें विस्तृत जानकारी देकर जागरूकता अभियान चलाया गया। श्री ठाकुर ने बताया की भारत मे हर पांचवा व्यक्ति साइबर अपराध से पिडित है, समाज में साइबर अपराध जंगल के आग की तरह फैलता जा रहा है। वर्तमान समय के दौरान इंटरनेट के बिना जीना संभव नहीं है, वहीं कम्प्यूटर, मोबाइल व इंटर नेट हमारी आवश्यकता बन गई है। मोबाइल और इंटरनेट के माध्यम से आज हम घर बैठे विद्युत विल, बच्चों की फीस, रेलवे टीकट, गैस आपूर्ति भुगतान, आनलाइन मार्केटिंग, वर्क टू होम इत्यादि कार्य कर रहे हैं, मोबाइल हमारे जीवन के लिए जीतना उपयोगी है, उतना ही जानकारी के आभाव में एवं गलत प्रयोग करने पर नुकसान पहुचा सकता है, सोशल मिडिया पर गलत पोस्ट शेयर नही कराना है, फेसबुक पर बिना पहचान के मित्रता स्वीकार नही करना चाहिए, बिना जान पहचान के चैट नही करना चाहिए, फेसबुक पर विदेशी लोगों से मित्रता व चैट नही करना चाहिए। फेसबुक चलाते वक्त अपनी प्रोफाइल लाक करके रखें साथ ही फेसबुक समेत किसी भी वेबसाइट पर व्यक्तिगत जानकारी शेयर नही करना चाहिए, बैंक आपको फोन नही करता है, इसलिए अपनी ओटीपी किसी को नहीं बताएंगे।नेट पर बैंक फ्राड से जूडे लोग आन लाइन नंबर फीड करके रखे हुए हैं, गुगल से कस्टमर केयर का नंबर नही लेना है, इनाम के नाम पर आए फोन से वार्ता नही करनी है, आपके वाट्स-अप पर आए किसी अनजान लिकं को क्लिक नही करना है, यदि आप अनजान लिकं को क्लिक कर देते हैं तो आपकी समस्त गोपनीय जानकारी साइबर अपराधी के पास पहुच जाएगा। सोशल मीडिया के माध्यम से वाट्स-अप पर फैलाए जाने वाले अफवाह जो समाज में वैयमनश्यता फैला सकती है ऐसे पोस्ट फार्वड (प्रचार) नही करना चाहिए। इंटर नेट के माध्यम से अश्लील कृत्यों (हनी ट्रैप ) से बचना चाहिए। मेट्रोमोनियन वेबसाइट का उपयोग सावधानी से करें, उस पर डाले गए नंबरो पर विश्वास ना करें यदि कोई पैसे की मांग करता है बिना स्पष्ट पहचान के पैसा ना देवें और ना ही ट्रान्सफार्मर करें, आपको दूसरे का वाई-फाई इस्तेमाल नही करना है। यदि आप साइबर क्राइम के शिकार हो जाते है अपना पैसा पुनः वापस पान के लिए फेसबुक से पोस्ट डिलिट कराने के लिए तत्काल भारत सरकार द्वारा जारी साइबर क्राइम के रोकथाम हेतू हेल्पलाइन नंबर 1930 पर शिकायत दर्ज कराएं, प्रत्येक थानों पर साइबर अपराध रोकथाम हेतू हेल्प डेस्क बना हुआ है। एक लाख से अधिक धनराशि का फ्राड होने पर प्रत्येक रेंज में रेज़ साइबर थाना खोला गया है। इस दौरान कालेज के प्रधानाचार्य अतुल पाण्डेय, कार्यालय सहायक रमेश चंद उपाध्याय, वसंत सिहं, अमितेश पाण्डेय, रोहित सिंह, हरिच़द पाण्डेय, राजकुमार चौबे, डा दीपक, अरविंद तिवारी, अनिल पाण्डेय, तुलसी राम, ज्योत्सना चतुर्वेदी, नीता जैन, सरोज सिंह सहित आधा दर्जन पुलिस कर्मी मौजूद रहे ।

[psac_post_slider show_date="false" show_author="false" show_comments="false" show_category="false" sliderheight="400" limit="5" category="124"]

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com