Friday , September 30 2022

“गन्ना किसानों के जीवन में आ रही मिठास”

ऋषिकांत शर्मा (संवाददाता)

० समिति के अंशधारक कृषको को मिली अंश प्रमाण पत्र की सौगात, खिले चेहरे

० लखनऊ कार्यक्रम की हुई लाइव स्ट्रीमिंग, अफसर-किसान हुए शामिल

लखीमपुर खीरी । सोमवार को सहकारी गन्ना विकास समितियो, सहकारी चीनी मिल समितियों के अंशधारक कृषक सदस्यों को अंश प्रमाण पत्र वितरण पर कलेक्ट्रेट में भव्य कार्यक्रम हुआ, जिसमे लखनऊ में आयोजित कार्यक्रम का सजीव प्रसारण देखा, सुना। लखनऊ में सीएम ने प्रदेश के 40 जिलों की 168 सहकारी गन्ना विकास समितियों, 24 सहकारी चीनी मिल समितियों से आये गन्ना कृषकों को अंश प्रमाण पत्र का प्रदान किया।

कार्यक्रम में डीएम महेंद्र बहादुर सिंह, एसपी संजीव सुमन, डीसीओ, बड़ी संख्या में गन्ना किसान शामिल हुए। लखनऊ कार्यक्रम में जिले के 50, कलेक्ट्रेट में 100 अंशधारक कृषक सदस्यों को अंश प्रमाण पत्र की सौगत मिली।

डीएम महेंद्र बहादुर सिंह ने अंशधारक कृषक सदस्यों को अंश प्रमाण पत्र मिलने की शुभकामनाएं दी। सरकार ने टेक्नोलॉजी के जरिए गन्ना किसानों के लिए व्यवस्थाओं को सुगम बनाया। ईआरपी व्यवस्था लागू होने से किसानों को राहत मिली। किसानों को उनकी उपज का अच्छा मूल्य मिले, इसके लिए सरकार पूरी प्रतिबद्धता से काम कर रही। किसान अच्छे बीजों का इस्तेमाल से उत्पादन बढ़ाएं। यदि किसी किसान को कोई असुविधा या परेशानी हो तो वहां जिला गन्ना अधिकारी या उनसे किसी भी कार्य दिवस में संपर्क कर उसका निदान करा सकता है।

एसपी संजीव सुमन ने कहा कि गन्ना किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए प्रदेश सरकार पूरी प्रतिबद्धता से काम कर रही। समाज को आगे बढ़ाने के लिए गन्ना किसान अपना योगदान करें। वही सभी गन्ना किसान पुलिस को अपना अपेक्षित सहयोग प्रदान करें। डीसीओ वेद प्रकाश सिंह ने कार्यक्रम की आवश्यकता एवं प्रासंगिकता बताइ। डीसीओ ने अंशधारक कृषक सदस्यों को अंश प्रमाण पत्र मिलने की शुभकामनाएं दी।

बताते चले कि सहकारी गन्ना विकास समितियों कृषकों की संस्थायें है तथा अंश धारक गन्ना कृषकों को अंश प्रमाण पत्र वितरण किये जाने का निर्णय प्रदेश के इतिहास में पहली बार लिया गया। सहकारी गन्ना/चीनी मिल समितियों की कार्य प्रणाली को पूर्ण पारदर्शी, जवाब देह बनाने एवं कृषक सदस्यों को स्वामित्व का पूर्ण एहसास कराने के उद्देश्य से अंश प्रमाण पत्र जारी किये गये। अंश प्रमाण-पत्र प्राप्त होने पर गन्ना कृषकों का गन्ना समितियों / चीनी मिल समितियों की वित्तीय प्रणाली पर विश्वास दृढ़ होगा। इससे सभी हितधारक पक्षों को सहकारी गन्ना समितियों के सुदृणीकरण हेतु प्रेरणा प्राप्त होगी।

इन समितियों के किसानों को कलेक्ट्रेट में मिला अंश प्रमाण पत्र

कलेक्ट्रेट में डीएम-एसपी ने गोला समिति के 15 किसान, फरधान 07, मैगलगंज 06, मोहम्मदी 07, लखीमपुर 07, ऐरा 15, जेबीगंज 12, अरनीखाना 05, भीरा 10, पलिया 10 व संपूर्णानगर 03 किसानों को मन से प्रमाण पत्र का वितरण किया।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com