Friday , September 30 2022

सर मैं पढ़ना चाहती हूँ….. मुझे अपने भाइयों का इलाज कराना है

शान्तनु कुमार/आनंद चौबे

कभी – कभी हमारे सामने ऐसी समस्या आ जाती है जो भीतर से झकझोर देती है और सोचने पर मजबूर कर देती है कि क्या सचमुच दुनिया से मानवता खत्म हो चली है ।
आज हम आपको एक ऐसी खबर दिखाने जा रहे है जिसे देखकर आप भी यही सोचने को मजबूर हो जाएंगे।

यह खबर एक गरीब लड़की की है जो अपने भाइयों की जिंदगी बचाने के लिए पढ़ना चाहती है ताकि वह बड़ी होकर कुछ बन सके, कमा सके । और वह उसी पैसों से अपने छोटे दो मासूम भाईयों की जिंदगी बचा सके ।

सोनभद्र के चतरा निवासी एक परिवार पिछले कई वर्षों से थैलेसीमिया नामक बीमारी से जूझ रहा है । लाइलाज इस बीमारी के कारण पूरा परिवार तबाह है। इलाज की वजह से जमीन जायदाद जब बिक गया । अब बस ब्लड के सहारे जिंदगी कट रही है । इसी परिवार की बेटी काव्या पांडेय वहीं एक प्राइवेट स्कूल में पढ़ती है लेकिन गरीबी व तंगहाली के कारण वे स्कूल का फीस जमा नहीं कर पा रही, जिसे लेकर स्कूल प्रवन्धक हमेशा स्कूल से नाम काट देने की धमकी दे रहा है ।

बच्चों संग जिलाधिकारी से मदद की गुहार लगाने कलेक्ट्रेट पहुंची बच्चों की मां कंचन पांडेय का कहना है कि उसकी लड़की पढ़ना चाहती है ताकि बड़ी होकर अपने भाइयों की देखभाल कर सके । मां का कहना है कि उसे व उसके बच्चों को थैलेसीमिया जैसी लाइलाज बीमारी है जिसमें हमेशा खून चढ़वाना पड़ता है, यदि उसकी लड़कीं पढ़-लिख लेगी तो उसके बाद वह अपने भाइयों का इलाज करा लेगी ।

बहरहाल बच्चों के साथ कलेक्ट्रेट पहुंची मां की जिलाधिकारी से मुलाकात तो नहीं हो सकी लेकिन इस मामले में प्रशासन के साथ सामाजिक संगठनों को भी मदद के लिए आगे आना चाहिए ताकि फीस की वजह से लड़की की पढ़ाई बाधित न हो ।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com