Monday , October 3 2022

धूमा शौचालय घोटाले में एक सचिव निलंबित, दूसरे के निलंबन हेतु पत्र जारी

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । दुद्धी ब्लॉक के धूमा गांव में शौचालय निर्माण में 29.59 लाख रुपये के घोटाले की पुष्टि होने के बाद संबंधित प्रधान और तत्कालीन 2 सचिवों की जिम्मेदारी तय करते हुए एक को निलंबित कर विभागीय कार्रवाई शुरू कर दी गई है। जबकि दूसरे को निलंबित करने के लिए डीडीओ को पत्र भेजा गया है। मामले में एफआईआर और धनराशि वसूली को लेकर भी प्रक्रिया अपनाई जा रही है। कमिश्नर योगेश्वर राम मिश्रा के निर्देश पर डीपीआरओ विशाल सिंह ने यह कार्यवाही की है।

बताते चलें कि गत 18 जून को दुद्धी में तहसील समाधान दिवस के मौके पर शिकायतों की सुनवाई करने पहुंचे मंडलायुक्त योगेश्वर राम मिश्रा के सामने ग्रामीणों की तरफ से धूमा में हुए शौचालय घोटाले का मुद्दा उठाया गया था। गांव के प्यारे मोहन की तरफ से लिखित शिकायत भी दर्ज कराई गई, जिस पर मंडलायुक्त ने डीपीआरओ को जांच कर कार्रवाई के निर्देश दिए। इसके बाद डीपीआरओ, एडीपीआरओ, एडीपीआरओ तकनीकी और जिला समन्वयक स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण की मौजूदगी वाली टीम ने पूरे मामले की जाँच शुरू की। जिसमें 230 शौचालयों का निर्माण कार्य पूर्ण हुए बिना ही 12 हजार रुपये प्रति शौचालय की दर से 27.60 लाख निकाल लिए गए हैं। इसके अलावा शौचालय के नाम पर 1 लाख 99 हजार पांच सौ की अतिरिक्त निकासी पाई गई। जिसके लिए दावा किया गया था कि इस धनराशि से 16 अतरिक्त शौचालय निर्मित कराए गए हैं लेकिन जांच टीम के सामने इसका कोई साक्ष्य उपलब्ध नहीं कराया गया। जाँच टीम ने धनराशि के गबन के लिए प्रधान रामप्रसाद यादव, पंचायत सचिव उमेश चंद्र और चांदनी गुप्ता को जिम्मेदार माना गया।

इसके बाद गत शनिवार को डीपीआरओ की तरफ से जहां ग्राम पंचायत विकास अधिकारी उमेश चंद्र को निलंबित कर विभागीय कार्यवाही शुरू कर दी गयी है, वहीं ग्राम विकास अधिकारी चांदनी के निलंबन के लिए डीडीओ को पत्र भेजा गया है। वहां से अभी निलंबन की सूचना डीपीआरओ कार्यालय को उपलब्ध नहीं कराई गई है।

बहरहाल पंचायत विभाग द्वारा की गई इस कार्यवाही के बाद विभाग में हड़कम्प मच गया । माना जा रहा है कि शौचालय घोटाले को लेकर चतरा ब्लाक के छोढा गांव में भी बड़ी कार्यवाही जल्द हो सकती है ।

previous arrow
next arrow

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com