Tuesday , October 4 2022

सीएचसी चोपन में जच्चा-बच्चा की मौत का मामला पहुंचा जिलाधिकारी के सामने, दोषियों के खिलाफ कार्यवाही की मांग

शान्तनु कुमार/आनंद कुमार चौबे

प्रभारी मंत्री के सामने भी उठ चुका है प्रकरण

● इस मामले चोपन इंस्पेक्टर का वीडियो हुआ था वायरल

सोनभद्र । चोपन अस्पताल की लापरवाही के कारण जच्चा-बच्चा की मौत के बाद चोपन पुलिस द्वारा पोस्टमार्टम न कराए जाने का मामला अब डीएम कार्यालय तक जा पहुंचा है । पीड़ित परिवार ने जिलाधिकारी से मिलकर पूरी दास्तान बयां किया औऱ दोषियों के खिलाफ कार्यवाही की मांग करते हुए न्याय की गुहार लगाई। जिसके बाद जिलाधिकारी ने जांच कराकर दोषियों के खिलाफ कार्यवाही करने का आश्वासन दिया है।

आपको बता दें कि ओबरा निवासी मधु का डिलीवरी ऑपरेशन द्वारा चोपन सामुदायिक केंद्र में किया गया। ऑपरेशन के कुछ घण्टों बाद जच्चा-बच्चा की हालत बिगड़ने लगी। जिसे देख चोपन अस्पताल के डॉक्टर ने रात में ही जच्चा-बच्चा दोनों को जिला अस्पताल रेफर कर दिया। जिला अस्पताल ने भी डॉक्टर से सुविधा न होने का बहाना बनाकर वाराणसी ले जाने की सलाह दी लेकिन रास्ते में जच्चा-बच्चा दोनों की मौत हो गयी। मौत की घटना के बाद परिजन शव लेकर सीधे चोपन अस्पताल पहुंचे और डॉक्टर पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा करने लगे। जिसकी सूचना पाकर चोपन इंचार्ज दल-बल के साथ अस्पताल पहुंचे और अपने पुलिसिया अंदाज में परिजन को घर भेज दिया। पुलिस घर भेज कर निश्चित हो गयी लेकिन परिजनों के साथ उनका अंदाज सोशल मीडिया पर वायरल हो गया । जिसके बाद से परिजन न्याय के लिए भटक रहे हूं लेकिन कहीं से कोई न्याय हजन मिला। अब जिलाधिकारी से मिलने के बाद परिजनों का कहना हैं कि उन्हें पूरा विश्वास है कि उन्हें न्याय मिलेगा।

अब देखना यह दिक्चस्प होगा कि हाल ही में इसी घटना की तरह पंचशील मल्टीस्पेशलिटी में महिला की मौत की घटना घटी थी, जिसकी जिलाधिकारी ने मजेस्ट्रेटी जांच कराई थी, जिसका रिपोर्ट आना बाकी है। ऐसे में सवाल यह उठता है कि क्या मधु के मौत के मामले में जिलाधिकारी भी जिलाधिकारी मजिस्ट्रेटी जांच कराएंगे या फिर दोषियों के खिलाफ सीधे कोई कार्यवाही करेंगे।

previous arrow
next arrow

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com