Friday , September 30 2022

चोपन में बढ़ रही चोरी की घटना, पुलिस की अनदेखी से लोगों में बढ़ रहा आक्रोश

घनश्याम पांडेय (संवाददाता)

० सिंदूरिया गाँव में तीन महीने में आधा दर्जन से उपर चोरी की घटनाओं से लोगों की उड़ी नींद

० पुलिस गश्त पर उठा सवाल

० पुलिस अधीक्षक से लोगों ने लगाईं गुहार, जल्द लगे चोरी की घटनाओं पर अंकुश

चोपन । चोपन में पुलिस की कार्यप्रणाली इन दिनों खासा चर्चा में । चर्चा इस मायने में कि थाने के पुलिस की कोई गलती न इंस्पेक्टर को दिखती है और न ही इंस्पेक्टर की कोई गलती ऊपर के अधिकारियों को । पिछले कुछ महीनों से चोपन के विभिन्न इलाकों में चोरी की घटना बढ़ गयी है लेकिन थाने की पुलिस निश्चिंत होकर अपने काम में मस्त है ।
प्राप्त जानकारी के मुताबिक थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत सिंदूरिया में दो तीन महीनों से चोरी की ताबड़तोड़ घटनाएं हो रही है। लेकिन न पुलिस इसे गंभीरता से लिया और न उसे कोई फर्क पड़ा । जिससे लोगों में भय के साथ ही पुलिस के खिलाफ आक्रोश बढ़ रहा है । बतातें चलें कि सिंदूरिया गाँव में कभी समर सेबुल तो कभी बैटरी आदि लगातार चोरी हो रही है।पीड़ितों के द्वारा पुलिस को सूचना भी दी जा रही है, बावजूद इसके पुलिस तनिक भी गंभीर नहीं हो रही । जिसके कारण अब उसकी कार्यशैली पर सवाल खड़े होने लगे है। ताजा घटना पर गौर करे तो प्रशांत पांडे पुत्र नरेंद्र पांडे निवासी सिंदूरिया ने तहरीर दिया कि हमारा मोटर चोरी हो गया ठीक दूसरे दिन बखऊड में भी समर सेबल चोरी हो गया । पुलिस के तरफ से कोई कार्यवाही अमल में नहीं लाई गई ।जबकि एक हफ्ता पहले राजेश कुमार पुत्र मुन्नीलाल निवासी ग्राम सिंदुरिया जो अपने घर के अंदर मोटरसाइकिल खड़ा करके सोने चला गया था, सुबह उठकर देखा तो उसके घर के अंदर से मोटरसाइकिल गायब थी । जिसके बाद उसने पुलिस को सूचना दिया परंतु अभी तक कोई कार्यवाही नहीं हुई । वहीं शुक्रवार की रात सिंदुरिया में रामलीला प्रांगण से बंद दरवाजा ताला तोड़कर समर सेबल का स्टाटर चोरी हो गया । ताबड़तोड़ चोरी की घटना से लोग दहशत में हैं लोगों को समझ में नहीं आ रहा कि आखिर वे क्या करें । लोगों का कहना हैं कि बालू की एक गाड़ी पुलिस की नजर से ओझल नहीं हो सकती, जबकि जिस कार्य के लिए पुलिस है वह अपना मूल काम छोड़कर अन्य कामों में व्यस्त है ।
आपको बतादें कि चोपन अस्पताल में एक महिला की मौत के मामले में एक वीडियो भी थाना प्रभारी का वायरल हुआ था लेकिन उस पर सज्ञान लेने के बजाय अधिकारी बचाने में जुटे रहे । इसके अलावा चोपन थाने की मनमानी का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता हैं कि सीएम के आदेश के वावजूद चोपन से अवैध स्टैंड नहीं हट सका और अभी भी बदस्तूर जारी है ।

कुल मिलाकर देखा जाय तो थाना क्षेत्र में लगातार चोरी की घटनाओं में बढ़ोत्तरी हो रही है और लोग खुद को असहाय महसूस कर रहे हैं । बड़ा सवाल तो यह हैं कि यह हाल मंत्री संजीव गोंड़ के विधानसभा में है ।

बहरहाल लोगों ने पुलिस अधीक्षक से क्षेत्र में बढ़ रही चोरी की घटनाओं पर तत्काल अंकुश लगाने की मांग की है। साथ ही पुलिस की कार्यशैली की भी जांच कराने की मांग की है ।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com