Wednesday , October 5 2022

प्रयागराज के बवाल वाले इलाके में अघोषित कर्फ्यू जैसा नजारा, कई घरों पर लटक रहे ताले

चिंता पांडेय (ब्यूरो)

प्रयागराज । प्रयागराज का अटाला इलाका कुछ दिनों से देशभर में चर्चा का विषय बन गया है। अटाला में शुक्रवार दोपहर जुमे की नमाज के बाद जमकर बवाल हुआ था। उपद्रवियों ने पथराव व आगजनी की थी। बवाल के बाद 30 से अधिक लोग घरों में ताला लगाकर भाग निकले हैं। पुलिस इनके बारे में पता लगा कर तलाश कर रही है। यह सभी बवाल के डर की वजह से भागे हैं या फिर हुई घटना में शामिल थे, इसका पता लगाया जा रहा है। इलाके में अघोषित कर्फ्यू सा नजारा है। चप्‍पे-चप्‍पे पर फोर्स तैनात है।

जुमे की नमाज के बाद तीन घंटे जमकर हुआ था बवाल

शुक्रवार दोपहर अटाला इलाके में उपद्रवियों ने पथराव, आगजनी और बमबाजी की थी। तीन घंटे बाद बवाल थमा तो पुलिस ने उपद्रवियों की तलाश शुरू की। नामजद आरोपियों को तो गिरफ्तार कर लिया गया लेकिन अज्ञात उपद्रवियों का पता नहीं चल पा रहा है। पुलिस अटाला की गलियों में दाखिल हुई तो 30 से अधिक घरों में ताला लटकता मिला। इन सभी का नाम पुलिस ने नोट कर लिया है और इनके बारे में पता लगाया जा रहा है।

अटाला में पसरा सन्नाटा, चौथे दिन भी दुकानें बंद

बवाल के चौथे दिन आज सोमवार को भी अटाला क्षेत्र में सन्नाटा पसरा रहा। दुकानें बंद हैं। मुख्य सड़क के साथ ही गलियों में भी पुलिस कर्मी तैनात हैं। अटाला की तरफ जाने वाली सभी सड़कों पर बैरिकेडिंग की गई है।

दिन ढलने के बाद बरती जा रही विशेष चौकसी

अटाला इलाका चौथे दिन सोमवार को भी पुलिस छावनी में तब्दील है। हर तरफ सन्नाटा और बीच-बीच में पुलिस की बूटों की आवाज ही सुनाई पड़ रही थी। यहां न कोई आ रहा है और न ही बाहर जा रहा है। दिन ढलने के बाद यहां तैनात पुलिसकर्मी गलियों में विशेष नजर रख रहे हैं।अटाला इलाके में शुक्रवार दोपहर हुए बवाल के बाद यहां बड़ी संख्या में पुलिस, पीएसी और आरएएफ के जवान तैनात किए गए हैं। रात के अंधेरे में यहां रहने वाले लोग चोरी-छिपे गलियों से भाग भी रहे हैं। इसे देखते हुए पुलिस ने निगरानी तेज कर दी है।

स्‍ट्रीट लाइट व टार्च से रात में पुलिसकर्मी कर रहे निगरानी

दिन ढलने के बाद गलियों में जल रहीं स्ट्रीट लाइटों और पुलिसकर्मियों के पास मौजूद टार्च से नजर रखी जा रही है। इसके अलावा अटाला चौराहे की तरफ आने वाले सभी मार्गों पर बैरीकेडिंग की गई है। यहां तैनात पुलिसकर्मी किसी को भी भीतर दाखिल नहीं होने दे रहे हैं।

previous arrow
next arrow

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com