Sunday , October 2 2022

अवैध खनन के खिलाफ प्रशासन की बड़ी कार्यवाही, 9 टीपर सीज

घनश्याम पांडेय (संवाददाता)

– जरूरत है प्रशासन को खनन माफियाओं के खिलाफ बुल्डोजर की कार्यवाही करने की

– रेत माफियाओं मदन हड़कम्प

चोपन । योगी सरकार 02 में अवैध कारोबारियों पर ताबड़तोड़ कार्यवाही हो रही है । चाहे अवैध अतिक्रमण के खिलाफ बुल्डोजर की कार्यवाही हो या फिर अवैध खनन व परिवहन के खिलाफ जिला प्रशासन की ।

शनिवार की देर रात एसडीएम ओबरा स सीओ के नेतृत्व में प्रशासन ने जुगैल थाना क्षेत्र के बड़गवा गांव से सटे सोन नदी से अवैध रूप से बालू निकाल रहे दर्जनों टीपरों पर ताबड़तोड़ कार्यवाही करते हुए धर दबोचा । प्रशासन की इस कार्यवाही से हड़कम्प मच गया और खनन माफिया अंधेरे का फायदा उठाकर भाग निकले । बाद में प्रशासन ने गड़ियों की बरामदगी कर खनन विभाग की सूचित कर दिया ।

प्राप्त जानकारी के अनुसार एसडीएम तथा पुलिस क्षेत्राधिकारी ओबरा को पिछले कई दिनों से सूचना मिल रही थी कि जुगैल थाना क्षेत्र में सोन नदी के तटवर्ती क्षेत्रों में बालू के अवैध कारोबारियों द्वारा रात के अंधेरे में भारी पैमाने पर टीपर लगाकर अवैध खनन व परिवहन कराया जा रहा है । इसी क्रम में शनिवार की मध्यरात्रि प्रशासन द्वारा यह छापेमारी की गई ।

बताते चले कि जुगैल थाना क्षेत्र में राज्य सरकार की ओर से बालू खनन के लिए कई पट्टे निर्गत किए गए हैं जिसका फायदा उठा कर सफेदपोश अवैध खननकर्ता रात के अंधेरे में रेत का कारोबार करते हैं। और नजदीक की मण्डियों में बेच देते हैं ।

बड़े मछली पकड़ से बाहर

प्रशासन द्वारा अब तक की कार्रवाई पर यदि गौर करें अब तक किसी बड़ी मछली के खिलाफ कभी कार्यवाही नहीं हुई । हमेशा छोटे मछलियों पर कार्यवाही कर मामले की इतिश्री कर दिया गया ।

बुल्डोजर की कार्यवाही से रुकेगा अवैध खनन

अवैध खनन हर सरकार के लिए बड़ी मुसीबत रही है । खनन माफियाओं की जड़े इस कदर मजबूर है कि उसके खिलाफ कार्यवाही करना किसी सरकार के लिए बड़ी चुनौती बनती रही है । लेकिन योगी सरकार पार्ट 2 में जिस तरह से माफियाओं के खिलाफ कार्यवाही की जा रही है उससे लोगों में एक उम्मीद जगी है कि योगी सरकार में अवैध खनन कर लगाम लग सकता है । ऐसे में प्रशासन को अवैध खनन माफियाओं को चिन्हित कर अवैध रूप से कमाई संपत्ति को जप्त करते हुए उसके संपत्ति पर बुल्डोजर की कार्यवाही करना चाहिए । ताकि उसके आर्थिक पक्ष को कमजोर किया जा सके ।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com