Sunday , September 25 2022

बेसिक स्कूलों की दीवारें सुनाएंगी वीरांगनाओं की कामयाबी का किस्सा

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

स्कूलों की एक दीवार होगी वीरांगनाओं के नाम, आदेश जारी

सोनभद्र । बेसिक स्कूलों की एक दीवार भारत में विभिन्न क्षेत्रों में ख्याति प्राप्त महिलाओं के नाम होगी। स्कूल की दीवार पर इन महिलाओं की जीवनगाथा उकेरी जाएंगी। देश का नाम रोशन करने वाली महिलाओं के जीवन चरित्र को दर्शाते चित्र व कहानियां 30 जून तक स्कूल की दीवार पर उकेरे जाएंगे। स्कूलों में शिक्षा ले रही बालिकाओं के सपनों में रंग भरने व पूरा करने का एक और प्रयास किया जा रहा है।

परिषदीय विद्यालयों में मिशन शक्ति अभियान के अंतर्गत कुछ और गतिविधियां सम्मिलित कर बालिकाओं को जागरूक करने का अनोखा प्रयास किया गया है। इसके अंतर्गत विद्यालय की एक दीवार महिला शक्ति के नाम कर बालिकाओं को स्वावलम्बन, सुरक्षा तथा स्वाभिमान की प्रेरणा देने का प्रयास किया जाएगा। महिलाओं की सुरक्षा आत्मसम्मान तथा आत्मविश्वास में वृद्धि के लिए मिशन शक्ति-4 अभियान के अंतर्गत परिषदीय विद्यालयों में पढ़ने वाली बालिकाओं को जागरूक करने के लिए निरंतर विद्यालयों में कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं।

इसी क्रम में विद्यालय की एक दीवार को ही महिला शक्ति को समर्पित करने का निर्णय लिया गया है। इस संबंध में परियोजना निदेशक अनामिका सिंह ने आदेश जारी कर दिए हैं। जिसमें विद्यालय खुलते ही 30 जून तक विद्यालयों की एक दीवार को इस तरह बनाया जाएगा कि वह साहस, वीरता, स्वाभिमान, सेवा, त्याग आदि गुणों की शिक्षा विद्यालय में पढ़ने वाली बालिकाओं को दे। इसमें दीवार पर विभिन्न क्षेत्रों में ख्याति प्राप्त महिलाओं जैसे किरण बेदी, पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी, आरती साहा, कल्पना चावला, पीटी उषा, कर्णम मल्लेश्वरी, पीवी सिंधु, एमसी मैरी कॉम आदि की जीवन गाथा को प्रदर्शित करती हुई कहानियां, चित्र, स्लोगन आदि उकेरे जाएंगे। इसे देखकर बालिकाएं सपने देखेंगीं और उन्हें पूरा करने की हर संभव कोशिश करेंगीं। इसके साथ जून माह में ही बालिकाओं के बीच महिला शक्ति से संबंधित चित्रकला, वाद-विवाद, प्रतियोगिता जैसे कार्यक्रम भी आयोजित किए जाएंगे। साथ-साथ विभिन्न स्लोगन और नारे लिखी तख्तियां लेकर गांव में रैली भी निकाली जाएगी। जिससे न केवल विद्यालय बल्कि गांव की अन्य किशोरियां भी प्रेरित होकर भविष्य में इंदिरा गांधी तथा कल्पना चावला जैसी बन सकें। बतादें की जिले में संचालित 2601 परिषदीय विद्यालयों में 1.35 हजार से अधिक छात्राएं अध्ययनरत हैं।

जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी हरिवंश कुमार ने बताया कि “इसके सम्बंध में निर्देश मिल गए हैं। मिशन शक्ति फेज 4 के अंतर्गत कुछ संशोधन किए गए हैं। उसी के अनुरूप स्कूल खुलते ही कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। विद्यालय में बालिकाओं को प्रेरित करने के लिए एक दीवार पर पेंटिंग आदि करने के निर्देश प्राप्त हो गए हैं। यह निर्देश खंड शिक्षा अधिकारियों को शीघ्र ही दे दिए जाएंगे।”

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com