Tuesday , October 4 2022

प्रयागराज में उप मुख्यमंत्री ने की विकास कार्यों की समीक्षा, कहा- अस्पतालों में निर्धारित आवश्यक दवाओं की शत-प्रतिशत उपलब्धता सुनिश्चित रहे

चिन्ता पान्डेय (ब्यूरो)

0 खराब ट्रांसफार्मरों को निर्धारित अवधि में अनिवार्य रूप से बदलने की कार्रवाई सुनिश्चित की जाये

0 उपमुख्यमंत्री ने सभी को शुद्ध पेयजल की उपलब्धता सुनिश्चित किए जाने के दिए निर्देश

0 प्रसव के बाद प्रसूता को अस्पताल में 48 घण्टें अनिवार्य रूप से रोकने के दिए निर्देश

0 टीम लगाकर एम्बुलेंस के संचालन की जांच किए जाने तथा उसके संचालन को सत्यापित किए जाने के दिए निर्देश

0 प्राथमिक विद्यालयों में बच्चों के नामांकन की संख्या बढ़ाये जाने के दिए निर्देश

प्रयागराज । उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक की अध्यक्षता में शुक्रवार को सर्किट हाउस के सभागार में विकास कार्यों के सम्बंध में समीक्षा बैठक आयोजित की गयी। बैठक में मा0 उप मुख्यमंत्री जी ने जनपद में चल रहे विकास कार्यों से सम्बंधित योजनाओं की विस्तार से समीक्षा की। उपमुख्यमंत्री जी ने बिजली विभाग के कार्यों की समीक्षा करते हुए जनपद में बिजली कटौती से सम्बंधित शिकायतों के बारे में अधिकारियों से जानकारी ली। उन्होंने कहा कि लोकट फाल्ट से सम्बंधित समस्याओं का तत्काल हर-हाल में समय से निस्तारण सुनिश्चित किया जाये। शहर एवं ग्रामीण क्षेत्रों में खराब होने वाले ट्रांसफार्मर को बदलने की जो समय सीमा निर्धारित है, उसी के अंदर ही ट्रांसफार्मर को अनिवार्य रूप से बदल दिया जाये। कहा कि ट्रांसफार्मर बदलने में यदि देरी की शिकायत प्राप्त होती है, तो सम्बंधित के विरूद्ध कठोर कार्रवाई की जायेगी। बैठक में उपमुख्यमंत्री ने विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि गलत बिजली बिल से सम्बंधित जो शिकायतें है, उनका निस्तारण सुनिश्चित करते हुए यह ध्यान रखा जाये कि आगे से गलत बिल से सम्बंधित शिकायत न आने पाये। विद्युत विभाग के सभी अधिकारिगणों को उपमुख्यमंत्री जी ने निर्देशित करते हुए कहा कि बिजली के सम्बंध में जो भी शिकायतें प्राप्त हो, उनकों गम्भीरता से लेते हुए उसका तत्काल निस्तारण किया जाये। उन्होंने यह भी निर्देशित किया कि विद्युत आपूर्ति जितने घंण्टे के लिए निर्धारित की गयी है, उतने घण्टे विद्युत की आपूर्ति सुनिश्चित की जाये। उन्होंने सभी अवर अभियंताओं को आम नागरिकों से शालीनता पूर्वक व्यवहार किए जाने के लिए कहा। उन्होंने विद्युत विभाग के अधिकारियों को जनप्रतिनिधियों से समन्वय बनाते हुए विद्युत से सम्बंधित समस्याओं को समयबद्ध एवं गुणवत्तापूर्ण ढंग से निस्तारित किए जाने के लिए कहा है।
पेयजल के सम्बंध में जल निगम एवं जल संस्थान के कार्यों की समीक्षा करते हुए उपमुख्यमंत्री ने जीएम जलकल से शहर में पानी सप्लाई के बारे में जानकारी ली। उन्होंने कहा कि शहर में पानी के सप्लाई से सम्बंधित लगातार शिकायतें प्राप्त हो रही है। उन्होंने जीएम जलकल को सभी को शुद्ध पेयजल की उपलब्धता सुनिश्चित कराये जाने के लिए कहा है और सचेत किया कि गंदे पानी व लीकेज से सम्बंधित किसी भी प्रकार की शिकायत नहीं आनी चाहिए। उन्होंने यह भी कहा है कि यदि गंदे पानी की सप्लाई के बारे में शिकायत पायी गयी, तो सम्बंधित के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जायेगी। मा0 उपमुख्यमंत्री जी ने ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल की स्थिति के बारे में जानकारी ली, जिसपर जल निगम के द्वारा बताया गया कि ग्रामीण क्षेत्रों में कुल 249 टंकियां है। उपमुख्यमंत्री ने टंकियों के संचालन की स्थिति के बारे में जानकारी लेते हुए कहा कि पूरी क्षमता के साथ नलकूपों का संचालन सुनिश्चित किया जाये, यदि कुछ नलकूप विद्युत या यांत्रिक कमी के कारण खराब हो, तो उनकों तत्काल ठीक कराते हुए उनका संचालन सुनिश्चित किया जाये। उपमुख्यमंत्री ने स्पष्ट रूप से निर्देशित करते हुए कहा कि शहर तथा ग्रामीण क्षेत्रों में कहीं पर भी पेयजल की समस्या नहीं होनी चाहिए। सभी को शुद्ध पेयजल मिलें, यह सुनिश्चित किया जाये।
स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा करते हुए उपमुख्यमंत्री ने कहा कि जो भी आवश्यक दवायें निर्धारित है, उनकी शत-प्रतिशत उपलब्धता सुनिश्चित रहनी चाहिए। उन्होंने जिला अस्पताल में जन औषधी केन्द्र खोलने की व्यवस्था करने के लिए कहा है। उपमुख्यमंत्री ने सभी सामुदायिक एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों तथा अन्य अस्पतालों में ठण्डे पीने के पानी, वाटर कूलर की व्यववस्था के साथ-साथ दवाईयों एवं डाॅक्टरों की सूची सहित अन्य आवश्यक निर्देशों से सम्बंधित बोर्ड लगाये जाने के लिए कहा है। उन्होंने संजीवनी एप, वेल्नेस सेंटर, स्टेªचर, एम्बुलेंस सहित अन्य आवश्यक व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी प्राप्त की। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि प्रसव के बाद प्रसूता को 48 घण्टें अनिवार्य रूप से अस्पताल में रोकने की व्यवस्था सुनिश्चित होनी चाहिए साथ ही साथ उन्होंने यह भी कहा कि जो भी वैक्सीन लगनी हो, वह भी निर्धारित समय पर अनिवार्य रूप से लग जाये। एम्बुलेंस के संचालन की समीक्षा करते हुए उपमुख्यमंत्री ने एम्बुलेंस के संचालन की जांच किए जाने एवं टीम लगाकर उसके संचालन को सत्यापित किए जाने हेतु निर्देशित किया। उन्होंने एम्बुलेंस के रिस्पांस टाईम के बारे में भी जानकारी प्राप्त की।
शिक्षा विभाग की समीक्षा करते हुए उपमुख्यमंत्री ने प्राथमिक विद्यालयों में बच्चों के नामांकन की संख्या बढ़ाये जाने के लिए कहा है। उन्होंने शिक्षा की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिए जाने के साथ-साथ कायाकल्प योजना के तहत कराये जाने वाले कार्यों को समयबद्ध ढंग से गुणवत्ता के साथ पूर्ण कराये जाने का निर्देश दिया है। उन्होंने अमृत सरोवर के निर्माण की प्रगति के बारे में भी जानकारी प्राप्त की। पीडब्लूडी विभाग के कार्यों की समीक्षा में पीडब्लूडी के अधिकारियों के द्वारा बताया गया कि 386 सड़कों पर पैचिंग का कार्य कराया जाना है। मा0 उपमुख्यमंत्री जी ने कहा कि पैचिंग का कार्य बरसात शुरू होने के पहले पूर्ण करा लिया जाये साथ ही साथ उन्होंने यह भी निर्देशित किया कि सड़कों के किनारें पटरी को भी अनिवार्य रूप से ठीक करा लिया जाये। बैठक से पहले मा0 उपमुख्यमंत्री जी ने दिव्यांगजनों को ट्राईसाईकिल भी वितरित की।

इस अवसर पर सांसद इलाहाबाद प्रो0 रीता बहुगुणा जोशी, सांसद फूलपुर केशरी देवी पटेल, महापौर अभिलाषा गुप्ता नंदी, जिला पंचायत अध्यक्ष डाॅ0 वी0के0 सिंह तथा विधायकगणों के अलावा अन्य जनप्रतिनिधिगण एवं मुख्य विकास अधिकारी शिपू गिरि, जिला विकास अधिकारी ए0के0 मौर्या सहित अन्य सम्बंधित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

previous arrow
next arrow

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com