Friday , October 7 2022

सामूहिक विवाह कार्यक्रम में 237 जोड़ों ने थामा एक दूजे का हाँथ

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह कार्यक्रम में सम्मलित होकर मंत्रीगणों ने नवविवाहित जोड़ों को दिया आशीर्वाद

● मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना से गरीब व असहाय परिवारों को मिल रही मदद – राकेश सचान

सोनभद्र । आज मंण्डी समिति रॉबर्ट्सगंज स्थित नवीन मंडी समिति में जिले में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अंतर्गत 235 जोड़ों ने वैदिक मंत्रोच्चार के बीच एक दूसरे का हाँथ थामा वहीं दो मुस्लिम जोड़ों का भी निकाह पढ़ाया गया। इस मौके पर मुख्य अतिथि के तौर पर उत्तर प्रदेश सरकार के सूक्ष्म लद्यु एवं मध्यम उद्यम रेशम हथकरघा वस्त्र उद्योग राकेश सचान और स्टाम्प एंव न्यायालय पंजीयन शुल्क स्वतन्त्र प्रभार राज्य मंत्री रविन्द्र जायसवाल मौजूद रहे।

राज्यसभा सासंद रामसकल, सदर विधायक भूपेश चौबे, दुद्धी विधायक रामदुलार गौंड, जिलाधिकारी चन्द्र विजय सिंह, सीडीओ अमित पाल शर्मा, जिला समाज कल्याण अधिकारी रमाशंकर यादव सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण एवं अधिकारीगण ने कार्यक्रम में गणेश जी की पूजा अर्चना करने के पश्चात सामूहिक विवाह के जोड़ो को आशीर्वाद दिया और उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

इस दौरान कैबिनेट मंत्री राकेश सचान ने कहा कि “मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजन के अन्तर्गत आज प्रदेश के प्रत्येक जनपदोें में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह कार्यक्रम का आयेाजन किया जा रहा है। देश के प्रधानमंत्रीनरेन्द्र मोदी एवं प्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सोच है गरीब असहाय एवं समाज के पिछड़े हुए व्यक्तियों को अपने बेटा-बेटी की शादी करने में कठिनाइयों का सामना न करना पड़े। इस योजना के माध्यम से प्रदेश के अनेको परिवारों की शादी की समस्या से छुटकारा मिला रहा है और वह असानी से विवाह प्रक्रिया को सम्पन्न कर रहे है।”

वहीं मंत्री रवीन्द्र जायसवाल ने कहा कि “मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के माध्यम 51 हजार रूपये की धनराशी कन्या पक्ष को उनके सुखमय जीवन के लिए उपलब्ध करायी जाती है। उन्होंने कहा कि आज सामूहिक विवाह जोड़े के सुखमय जीवन व उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना करते है।”

वहीं नवविवाहित जोड़ों ने सामूहिक विवाह के आयोजन पर मुख्यमंत्री को धन्यवाद देते हुए बताया कि ऐसे कार्यक्रमों के आयोजन होने से दहेज प्रथा पर लगाम लगेगी और जिन परिवारों की स्थिति सही नहीं है, उनके घरों की बेटियों की भी शादी आसानी से हो सकेगी।

previous arrow
next arrow

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com