किसके इशारे पर चल रहे हैं अवैध अस्पताल व पैथालॉजी सेंटर, कब चलेगा इन माफियाओं पर बोल्डोजर

शान्तनु कुमार/आनंद चौबे

स्वास्थ्य मंत्री भले ही बेहतर स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराने का दावा कर रहे हों मगर जिले में जिस तरह से अवैध अस्पताल व पैथालॉजी सेंटर खुल रहे हैं वह चिंता का विषय बनता जा रहा है।
छोटे-छोटे कमरों में बिना किसी मानक के चल रहे अस्पताल न सिर्फ मरीजों की जिंदगी के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं बल्कि उनसे कमाई भी कर रहे हैं ।

हाल ही में कमाई के चक्कर में सरकारी अस्पतालों से मरीज प्राइवेट अस्पतालों में भेजे जाने का मामला सामने आया तो भाजपा नेताओं ने जमकर हंगामा किया था ।
वही दूसरी तरफ अवैध अस्पताल दलालों के माध्यम से पहले मरीजों को सस्ता इलाज कराने का झांसा देकर फंसाते हैं और बाद में केस बिगड़ने पर रेफर कर अपना पल्ला झाड़ लेते हैं ।
जिले में ऐसे बहुतेरे अस्पताल हैं जो अवैध रूप से संचालित हो रहे हैं लेकिन उनपर लगाम नहीं लग पा रहा है।

लोगों का कहना है कि बिना स्वास्थ्य विभाग की मिलीभगत से अवैध अस्पताल चल ही नहीं सकते । लोगों का कहना है कि पूरे जनपद में जिस तरह से अवैध अस्पताल व पैथालॉजी सेंटर खुल रहे हैं आखिर यह कैसे सम्भव है कि उसकी जानकारी स्वास्थ्य विभाग को नहीं हो पा रही है । इससे साफ है कि कहीं न कहीं लोगों की जिंदगी के साथ खिलवाड़ करने में स्वास्थ्य विभाग भी पूरी तरह से जिम्मेदार है ।

योगी सरकार पार्ट 2 में जिस तरह से भ्रष्टाचार व अवैध कामकाजों पर ताबड़तोड़ कार्यवाही हो रही है उसे लेकर पूरे सूबे में हड़कम्प मचा हुआ है। लोगों का कहना है कि जिस तरह से योगी सरकार अवैध अतिक्रमण के खिलाफ कार्यवाही कर रहे हैं ऐसे ही अवैध रतालू के खिलाफ बुलडोजर की कार्रवाई करनी चाहिए ताकि गरीब लोगों की जिंदगी बच सके और कोई भी गरीबों की सेहत के साथ खिलवाड़ न करें

वहीं अवैध अस्पतालों को लेकर सीएमओ का कहना है कि जिले में जितने भी प्राइवेट अस्पताल व पैथालॉजी सेंटर हैं उनका मानक चेक करके ही उन्हें पंजीकृत किया गया है । इसके अलावा यदि कहीं अवैध अस्पताल व पैथालॉजी सेंटर चल रहे हैं तो उसके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी ।

पहले डॉक्टरों को भगवान का दर्जा दिया जाता था लेकिन पिछले कुछ वर्षों में कुछ डॉक्टरों ने जिस तरह से इस पेशे को व्यापार बना दिया है तब से लोगों की जिंदगी भी सस्ती हो गयी है ।
ऐसे में सरकार को अभियान चला कर इसे समाप्त करने की सख्त जरूरत है ताकि न सिर्फ गरीब लोगों की जिंदगी बच सके बल्कि किसी गरीब को इलाज के लिए अपनी जमीन न बेचना पड़े ।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
[ngg src="galleries" ids="1" display="basic_slideshow" thumbnail_crop="0"]
Back to top button