अब बीमार अस्पतालों की सेहत सुधारेंगे बीजेपी नेता, अस्पताल पहुँचकर किया हंगामा

आनंद चौबे/अंशु खत्री

योगी सरकार पार्ट 2 में डिप्टी सीएम के साथ स्वास्थ्य मंत्री बनाये गए ब्रजेश पाठक भले ही जिलों का दौरा कर स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को बेहतर करने का दावा कर रहे हों । मगर सरकारी अस्पतालों के जो हालात हैं वह किसी से छिपी नहीं है । स्वास्थ्य मंत्री ने खुद छापेमारी कर खुलासा किया कि अस्पतालों की सेहत ठीक नहीं और वे व्यवस्थाओं को सुधार कर रहेंगे । मगर यह सब कैसे संभव होगा यह अब तक साफ नहीं ।

जिस तरह से सोनभद्र में सरकारी अस्पतालों की सेहत बिगड़ती जा रही है और अधिकारी अपनी सेहत बनाने में मस्त हैं, इसे देखते हुए अब भाजपा नेता अस्पतालों की बिगड़ी सेहत सुधारने के लिए खुद आगे आ गए हैं ।

गुरुवार को बड़ी संख्या में भाजपा नेता जिला अस्पताल परिसर में स्थापित 100 शैय्या बेड महिला एवं शिशु हॉस्पिटल पहुंचे और जमकर हंगामा किया ।
भाजपा नेताओं का आरोप है कि 100 शैय्या बेड महिला एवं शिशु हॉस्पिटल में मरीजों का शोषण किया जा रहा है और गरीब महिलाओं को प्राइवेट अस्पताल में भेज कर कमाई की जा रही है । भाजपा नेताओं ने कहा कि ये सभी सरकार को बदनाम करने की साजिश कर रहे हैं लेकिन ऐसा होने नहीं दिया जाएगा और इसकी शिकायत ऊपर तक की जाएगी ।

हंगामा की खबर सुनकर मौके पर जिला अस्पताल के सीएमएस पहुंचे तो 100 शैय्या बेड महिला एवं शिशु हॉस्पिटल के डॉक्टर ने जिला अस्पताल पर दवा न देने के बड़ा आरोप लगा दिया । डॉक्टर ने कहा कि अस्पताल से दवा मिलती नहीं और वे बाहर से दवा लिख नहीं सकते । जिसके बाद सीएमएस भी सफाई देते नजर आए । सीएमएस ने कहा कि इस मामले को लेकर शासन को पत्र के माध्यम से अवगत कराया जाएगा।

बहरहाल स्वास्थ्य मंत्री भले ही मरीजों को भगवान मानकर सेवा करने की बात कह रहे हों मगर यहां डॉक्टर मरीज को एक ग्राहक से ज्यादा कुछ नहीं समझता, ऐसे में जरूरत है पंजाब सरकार की तर्ज पर ऑन स्पॉट कड़े फैसले लेने की, ताकि वह सभी के लिए नजीर बन सके ।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
[ngg src="galleries" ids="1" display="basic_slideshow" thumbnail_crop="0"]
Back to top button