Sunday , October 2 2022

टूटे पुलिया रिंगवाल में स्थानीय नदी से बालू बोल्डर का हो रहा प्रयोग

आर के (संवाददाता)

सागों बांध । म्योरपुर क्षेत्र के छत्तीसगढ़ सीमा से सटे ग्राम पंचायत सागोबांध के शिवघाट के पास वर्ष 2013मे अत्यधिक वर्षा के कारण पुलिया व रिंगवाल टूटकर क्षतिग्रस्त हो गई थी। टूटने से आवागमन बाधित हो गया था। इसकी बार-बार शिकायत राष्ट्रीय समाचार पत्रों पर प्रकाशित भी की गई थी। वर्तमान समय में पीडब्ल्यूडी विभाग के तहत हो रहे कार्य में भारी अनियमितता बरती जा रही है। स्थानीय नदी नालों से लोकल बोल्डर एवं बालू का प्रयोग किया जा रहा है जिससे आसपास के ग्रामीणों में काफी नाराजगी व्याप्त है। साथ ही राज्य सरकार की व्यापक पैमाने पर राजस्व की चोरी हो रही है क्षेत्र के तमाम ऐसे कई जगहों पर नदी नालों की लोकल गिट्टी बोल्डर की प्रयोग कर ठेकेदार द्वारा राजस्व की चूना लगाया जा रहा। क्षेत्र के ग्रामीणों का कहना है कि मानक के विपरीत कार्य होने के कारण निर्माण की गई पुलिया रिंगवाल टूट जाते हैं जिसका खामियाजा ग्रामीणों को झेलना पड़ता है। क्षेत्र के ग्रामीणों में अनिल कुमार, रामप्रताप, विनोद कुमार, चंद्रिका प्रसाद, जयशंकर, अरुण कुमार आदि ने जिला अधिकारी का ध्यान आकृष्ट करते हुए कार्रवाई की मांग की है।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com