चीन के चोंगकिंग एयरपोर्ट पर विमान में लगी आग, सौ से अधिक लोगों को सुरक्षित निकाला गया

चीन के चोंगकिंग एयरपोर्ट पर मंगलवार की सुबह तिब्बत एयरलाइन्स के विमान में आग लग गई। सरकारी मीडिया ने बताया कि कुछ पैसेंजर्स को इस घटना में चोट भी आई है । सरकारी बॉडकास्टर सीसीटीवी ने बताया कि चोंगकिंग से ल्हासा जाने वाली फ्लाइट का चोंगकिंग जियांगबेई इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर आग लग गई ।

पीपुल्स डेली ने एयरलाइन्स के हवाले से बताया है कि सभी 113 पैसेंजर्स और 9 क्रू मेंबर्स को सुरक्षित निकाल लिया गया है । जिन लोगों को मामूल रूप से चोटें आई थी उन्हें अस्पताल ले जाया गया है । सोशल मीडिया पर शेयर किए गए वीडियो में साफतौर पर देखा जा सकता है कि रनवे पर खड़े विमान में आग के बाद तेजी के साथ आसमान में धुआं निकल रहा है । राहत दल की तरफ से विमान पर पानी डाला जा रहा है और आग को बुझाने का प्रयास किया जा रहा है ।

एयरलाइन्स ने बताया कि जिस वक्त विमान दक्षिण-पश्चिम शहर चोंगकिंग से तिब्बत के न्यांगची जा रहा था उस समय क्रू को शक हुआ और उन्होंने विमान को टेकऑफ करने से रोक दिया। इसके बाद रनवे पर विमान में आग की लपटें दिखाई दीं। तिब्बत एयरलाइन्स ने बयान जारी कर बताया- सभी पैसेंजर्स और क्रू सदस्यों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया। घायल पैसेंजर्स को मामूली रूप से चोटें आई हैं और उन्हें असपताल में इलाज के लिए भेजा जा चुका है ।

यह घटना ऐसे वक्त पर हुई है जब इससे पहले कुनमिंग से गुआंगझोऊ जा रही चाइना ईस्टर्न फ्लाइट में मार्च के महीने में पहाड़ी इलाके में करीब 29 हजार फीट की ऊंचाई पर आग लग गई थी, इसमें सवार 132 लोग मारे गए थे। इसे चीन के 30 वर्षों के इतिहास में सबसे बड़ा हादसा माना गया. उसकी कुछ खास वजह नहीं बताई गई थी। उस विमान से दो ब्लैक बॉक्स मिलने के बाद अमेरिका में उसका विश्लेषण किया जा रहा है ताकि चाइना ईस्टर्न फ्लाइट में हुए उस हादसे की मिस्ट्री का राज खुल सके ।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
[ngg src="galleries" ids="1" display="basic_slideshow" thumbnail_crop="0"]
Back to top button