आर्थिक संकट से जूझ रहे श्रीलंका में इमरजेंसी लागू, राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे ने की इसकी घोषणा

आर्थिक संकट से जूझ रहे श्रीलंका में इमरजेंसी (आपातकाल) लागू कर दिया गया है । राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे ने इसकी घोषणा की है । अधिकारी ने कहा कि आपातकाल शुक्रवार मध्यरात्रि से प्रभावी होगा । श्रीलंका में लोग लगातार सड़कों पर उतरकर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं । इस बीच राष्ट्रपति ने आपातकाल लागू करने का फैसला लिया है ।

श्रीलंका के मुख्य विपक्षी दल ने सरकार और राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे के खिलाफ पिछले दिनों अविश्वास प्रस्ताव पेश किया था । विपक्ष का आरोप है कि देश जब अपने सबसे बुरे आर्थिक दौर से गुजर रहा है तब राजपक्षे ने अपने संवैधानिक दायित्वों का निर्वहन नहीं किया । मुख्य विपक्षी दल, समागी जन बालवेगया (एसजेबी) ने संसद के अध्यक्ष महिंदा यापा अभयवर्धना को एसएलपीपी गठबंधन सरकार के खिलाफ अविश्वास के दो प्रस्ताव सौंपे थे ।

गोटबाया राजपक्षे और उनके मंत्रिमंडल को सत्ता से हटाने के लिए 225 सदस्यीय संसद में बहुमत चाहिए होगा । यूनाइटेड पीपुल्स फोर्स के पास 54 मत हैं और उन्हें छोटी पार्टियों से समर्थन मिलने की उम्मीद है । सत्तारूढ़ दल के पास लगभग 150 मत हैं लेकिन आर्थिक संकट के दौरान इस संख्या में कमी आई है जिससे कुछ नेताओं के पार्टी के विपरीत जाने की आशंका है ।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
[ngg src="galleries" ids="1" display="basic_slideshow" thumbnail_crop="0"]
Back to top button