Sunday , October 2 2022

पाँच बाल श्रमिक कराए गए मुक्त

रमेश कुमार (संवाददाता)

दुद्धी । खेलने-पढ़ने की उम्र में होटल,रेस्टोरेंट, दुकान व कारखानों में मजदूरी कर रहे बच्चों और किशोरों को आजाद हवा में सांस लेने का हक दिलाने के क्रम में बुधवार को जिला बाल संरक्षण इकाई, मानव तस्करी विरोधी इकाई तथा पुलिस की संयुक्त कार्यवाही में बाल मजदूरी उन्मूलन के लिए मिशन शक्ति फेज 4.0 के तहत चल रहे ऑपरेशन मुक्ति अभियान के तहत दुद्धी स्थित एक रेस्टोरेंट में काम कर रहे 5 बाल श्रमिकों को मजदूरी के बंधन से मुक्त कराया।

जिला बाल संरक्षण इकाई से शेषमणि दुबे ओआरडब्ल्यू व मानव तस्करी विरोधी इकाई से निरीक्षक रामजी यादव, उप निरीक्षक सुजीत सेठ, कांस्टेबल धनंजय ने बाल मजदूरी कराए जाने के सूचना पर दुद्धी में होटलों, ढाबा, दुकान एवं रोडवेज बस स्टैंड पर अभियान चलाकर चेकिंग की गई। चेकिंग के दौरान दुद्धी बाजार स्थित एक प्रतिष्ठान-रेस्टोरेंट से पांच बालकों को बाल श्रम करते हुए पाया गया। बाल श्रमिकों के संबंध में मौके पर उपस्थित होटल मालिकों से बालकों के उम्र के संबंध में साक्ष्य मांगा गया, लेकिन होटल मालिक कोई साक्ष्य उपलब्ध नहीं करा पाए। सभी बालकों को टीम ने अपनी अभिरक्षा में लेते हुए बाल कल्याण समिति के समक्ष प्रस्तुत करने के लिए ले जाया गया।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com