Monday , October 3 2022

खनन क्षेत्र में ओटीपी बंद होने से पसरा सन्नाटा

संजय केसरी / अर्जुन मौर्या (संवाददाता)

डाला। बिल्ली-मारकुंडी खनन क्षेत्र के पत्थर खनन उद्योग हजारों लोगों को रोजगार देने के साथ ही प्रदेश सरकार के राजस्व वृद्धि में अहम भूमिका निभाता है। इसके संचालन से जनपद ही नहीं प्रदेश के विभिन्न जिलों में गिट्टी-भस्सी की आपूर्ति होती है जो सरकार के निर्माण संबंधित विकास कार्यो की अहम कड़ी से जुड़ा है। विकास को गति प्रदान करने वाले खनन उद्योग पर अक्सर संकट के बादल मंडराते रहते हैं। इसके कारण खनन उद्योग प्रभावित होता रहता है।

खदान संचालको से मिली जानकारी के अनुसार बिल्ली मारकुंडी खनन क्षेत्र के बाड़ी में स्थित समस्त पत्थर खदानों का अचानक ओटीपी बंद होने से आनलाइन परमिट की निकासी भी बंद हो गई। इसके कारण खदानों में सन्नाटा पसरा रहा। खदानों के कंप्रेशर मशीन, टीपर आदि खामोश रहे। बगैर सूचना दिए ही अचानक ओटीपी बंद होने से खनन कार्य व परमिट की निकासी पर अनिश्चितता के बादल छा गए हैं, जिसको लेकर खदान संचालक भी संशय में पड़े हैं।

ओटीपी बंद होने का कारण भी स्पष्ट नहीं हो सका है। बुधवार की शाम से ही खदानों में अधिकारियों की टीम आने की सूचना से खनन कार्य बंद कर दिया गया है। इस संबंध में खनन विभाग के अधिकारियों को फोन कर कारण जानने का प्रयास किया गया तो किसी का फोन नहीं रिसीव हुआ। मोबाइल की घंटी बजती रही लेकिन फोन नहीं उठा ।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com