Friday , September 30 2022

प्रकाशोत्सव के रूप में मनाई गई गुरू गोविंद सिंह जी की जयन्ती

घनश्याम पाण्डेय/विनीत शर्मा(संवाददाता)

● रिमझिम फुहारों के बीच नगर में निकली भव्य शोभायात्रा

चोपन। रविवार को सिखों के दसवें गुरु श्री गोविंद सिंह का 355 वा जन्मोत्सव प्रकाश पर्व के रूप में बड़े धूमधाम से स्थानीय गुरुद्वारा सिंह सभा में मनाया गया मुगलसराय से आए रागी जत्था सतपाल सिंह व साथियों द्वारा सुबह शब्द कीर्तन किया गया तत्पश्चात विशाल लंगर का आयोजन किया गया इसमें नगर सहित आसपास के लोगों ने लंगर का प्रसाद ग्रहण किया शब्द कीर्तन के पश्चात नगर पंचायत अध्यक्ष प्रतिनिधि उस्मान अली, समाजसेवी प्रदीप अग्रवाल ,संजय जैन इत्यादि लोगों को सिरोपा भेंट कर सम्मानित किया गया।

इस दौरान सरदार मेहताब सिंह ने बताया कि गुरुद्वारा साहिब का जन्म सन 1666 में पटना साहिब में हुआ बचपन पटना साहिब में ही बीता गुरु जी ने भ्रष्ट जनता को सही मार्ग दिखाने के लिए धर्म जाति देश भाषा के कारण उत्पन्न विभिन्नता समाप्त कर एकता स्थापित करने के लिए यह समझाया कि मंदिर-मस्जिद पूजा नमाज यथा हिंदू मुसलमान में मूलतः कोई भेद नहीं है यह केवल दिखावा मात्र है इतना ही नहीं आत्मा भी परमात्मा का ही एक अंश है। वही दोपहर बाद हल्की फुल्की बरसात के बीच पंचप्यारे की शोभा यात्रा निकाली गई जिसमें भारी संख्या में श्रद्धालु पुरूष स्त्री एवं बच्चे शामिल रहे। शोभायात्रा को नगर के कई स्थानों पर रोक कर उत्साही समाजसेवियों ने जलपान की व्यवस्था भी की।इस दौरान रावट्सगंज, ओबरा, डाला के साथ ही चोपन की संगत मौजूद रही।

इस मौके पर गुरूद्वारा इण्टर कालेज के प्रबंधक सरदार सतनाम सिंह,अध्यक्ष सुलख्खन सिंह,सरदार कमलजीत सिंह, सरदार वीरा सिंह, अजीत सिंह दीपक सिंह, प्रेम सिंह जसमेर सिंह, हरदयाल सिंह,अनीस अहमद, जितेंद्र सिंह छात्र नेता हरजोत सिंह मोगा भूपेंद्र सिंह, गोपाल सूद, अजय भाटिया समेत सैकड़ों लोग उपस्थित रहे।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com