Friday , September 30 2022

मनरेगा में काम रोकेगा पलायन- आईपीएफ

एस प्रसाद (संवाददाता)

-धरना 84 वें दिन भी रासपहरी में

म्योरपुर। मनरेगा में 200 दिन काम और 350 रूपये मजदूरी आदिवासी बाहुल्य दुद्धी क्षेत्र से ग्रामीणों के पलायन को रोकने का काम करेगा। यह बातें आज रासपहरी में जारी आईपीएफ के धरने में वक्ताओं ने कहीं। वक्ताओं ने कहा कि आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र में बड़े कल कारखाने हैं लेकिन स्थानीय लोगों को रोजगार नहीं मिलता। खेती किसानी पिछड़ी होने के चलते आजीविका का संकट हमेशा बना रहता है। यही वजह है कि यहां से बड़ी संख्या में नौजवान रोजगार की तलाश में बाहर पलायन करते हैं। जहां उनकी जीवन सुरक्षा का कोई इंतजाम नहीं रहता। इसलिए इस इलाके के लोगों की आजीविका और जीवन सुरक्षा के लिए मनरेगा में 200 दिन काम और 350 रूपये मजदूरी की गारंटी करनी चाहिए। वक्ताओं ने कहा कि काम न देकर और मजदूरी भुगतान में विलम्ब करके मनरेगा को विफल करने की कोशिश लगातार की जा रही है। इसके विरूद्ध व्यापक जन अभियान चलाया जायेगा।
धरने में आइपीएफ जिला संयोजक कृपा शंकर पनिका राजेन्द्र प्रसाद गोंड़ मनोहर गोंड़, संजय कुमार गोंड़, राजमन गोंड़, रामाधीन गोंड़, राम सुभग गोंड़, इंद्रदेव खरवार, बिरझन गोंड़ आदि लोग रहे।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com