Saturday , October 1 2022

दो साल का मासूम 12 किलोमीटर किसके साथ किया तय, जानने पहुंची जिले की जांच टीम

शान्तनु कुमार/एस प्रसाद

– म्योरपुर पुलिस बरामदगी से ही हो गयी खुश, मनाने लगी नया साल

– आखिर कौन है वह गैंग जो बच्चों को बना रही निशाना

– पहले रावर्ट्सगंज कोतवाली इलाके के बबुरी गांव और फिर म्योरपुर के किरवानी गांव की घटना सामान्य नहीं

– क्या दोनों घटना में है कोई रिलेशन

– जांच टीम दोनों घटनाओं के कनेक्शन को जोड़ने में जुटी

फाइल फोटो

म्योरपुर थाना क्षेत्र के किरवानी से गायब मासूम तो सकुशल बरामद हो गया लेकिन बरामदगी के बाद भी पुलिस का टेंशन कम होने का नाम नहीं ले रहा । पुलिस इस बात का पता लगाने में जुटी है कि आखिर 2 साल का मासूम 12 किलोमीटर किसके साथ गया ।
पुलिस इस दिशा में भी काम करही है कि क्या गांव का ही कोई व्यक्ति रेकी कर दूसरे के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिया था । बच्चा भले ही बरामद हो गया हो मगर अपने पीछे कई सवाल छोड़ गया ।
सवाल तो यह भी उठता है कि क्या जिले में कोई ऐसा गैंग सक्रिय हो गया है जो बच्चों को निशाना बना रहा है । क्योंकि रावर्ट्सगंज कोतवाली इलाके के बबुरी गांव से भी 5 वर्षीय बच्चा ठीक इसी तरह खेलते समय घर के सामने से गायब हो गया, जो तीन महीने बाद भी पता नहीं चल सका ।
इसी सब कड़ी को जोड़ने के लिए जिले से पुलिस विभाग की एक टीम म्योरपुर पहुंची और घण्टे भर हर एक एंगल से जांच की । इस दौरान जांच टीम कई लोगों से बातचीत भी की ।
जांच टीम म्योरपुर की घटना व चुर्क क्षेत्र के बबुरी गांव की घटना को जोड़कर देख रही है । यह पता लगाने का काम कर रही है कि क्या दोनों घटना में एक ही गैंग का हाथ है । यह सवाल इस बात को लेकर उठ रही है क्योंकि दोनों घटनाओं में बच्चे को घर के सामने से उठाया गया । यानी साफ है कि कुछ न कुछ एकरूपता जरूर है । बस इसी गुत्थी को सुलझाने व समझने के लिए जांच टीम म्योरपुर पहुंच गई।
बच्चे के गायब होने के बाद बरामदगी तक म्योरपुर पुलिस का कोई विशेष रोल नहीं रहा है । न किसी फिरौती को लेकर फोन आया और न कोई सुराग मिला। बस किस्मत अच्छी थी कि जंगल में एक महिला ने बच्चे को भटकता देख अपने घर ले आयी और उसे सुरक्षित पुलिस को सुपुर्द कर दिया । इस कारण म्योरपुर पुलिस को भी इस घटना को लेकर कोई विशेष जानकारी नहीं । इसलिए उच्च अधिकारियों ने इसे गंभीरता से लेते हुए जिले से एक टीम गठित कर दी जो जांच कर अपनी रिपोर्ट तैयार करेगी ।

बच्चे की बरामदगी के बाद स्थानीय पुलिस भले ही अपनी पीठ थपथपा रही हो मगर क्षेत्र में लोग खूब कमेंट भी कर रहे हैं । नए साल पर तो थाने की पुलिस बच्चे के साथ नव वर्ष सेलिब्रेट किया । लेकिन उस महिला को भूल गए जो बरामदगी में अहम रोल निभाई । हालांकि बच्चे के परिजन महिला को भगवान मानकर धन्यवाद ज्ञापित कर रहे हैं ।

कुल मिलाकर पहले दिन जांच टीम काफी गंभीरता से सभी पहलुओं पर जांच किया । अब देखना है कि टीम की जांच कहाँ तक पहुंचती है ।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com