Monday , October 3 2022

नमन है सेनानियों की इस मिट्टी को- ए0के0 शर्मा

शान्तनु कुमार

सोनभद्र । बलिदानियों की इस मिट्टी का स्पर्श कर मैं अपने को गौरवान्वित महसूस कर रहा हूँ, यह उदबोधन पूर्व ब्यूरोक्रेट व विधान परिषद के सदस्य अरविंद कुमार शर्मा ने व्यक्त किया, वे परासी दूबे स्थित शहीद उद्यान के आयोजित कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे । उन्होंने कहा कि इस मिट्टी में अभी भी ऊर्जा का संचार है जिससे कुछ करने की प्रेरणा मिल रही है । उन्होंने हर-हर महादेव का जयघोष करते हुए कहा कि यह द्वितीय काशी का क्षेत्र है और भोलेनाथ की इस पर कृपा है । इसलिए मैं इसे पिछड़ा नहीं मानता, यही वजह है कि तमाम दुश्वारियों के बाद भी सौ वर्ष पूर्व यहां के सेनानियों की राष्ट्रीय चेतना बहुत ही उन्नत थी ।
सेनानियों की स्मृति में निर्मित गौरव स्तम्भ पर पुष्प चक्र अर्पण करने के बाद एके शर्मा ने हरी शंकरी वृक्ष का रोपण किया । तत्पश्चात उन्होंने स्वतंत्रता सेनानी परिजनों को अंगवस्त्रम भेंट कर उनका सम्मान किया। क्रांति पथ से जुड़े गांवों के ग्राम प्रधान अर्चना त्रिपाठी, प्रीति चतुर्वेदी, सुशीला देवी और राजेंद्र पटेल ने संयुक्त रूप से ज्ञापन देकर क्रांतिपथ से जुड़े स्थानों के समग्र विकास की मांग की ।
युवक मंगल दल के जिलाध्यक्ष सौरभकान्त पति तिवारी ने भी क्रांति पथ के विस्तारीकरण की मांग की और उन्हें ज्ञापन सौंपा ।
शहीद उद्यान ट्रस्ट के चेयरमैन विजय शंकर चतुर्वेदी ने मुख्य अतिथि एके शर्मा, अध्यक्षता कर रहे सोनभद्र बार के अध्यक्ष चंद्रप्रकाश द्विवेदी, घोरावल विधायक डॉ अनिल मौर्या, काशी प्रान्त के भाजपा पदाधिकारी रमेश मिश्रा व समाजसेवी राहुल श्रीवास्तव को प्रतीक चिन्ह और अंगवस्त्रम देकर सम्मानित
किया।
स्वतंत्रता सेनानियों के परिजनों में संतोष पनिका, ओम प्रकाश गोंड, मोहन बियार, अरविंद गोंड, अजीत शुक्ला, अमरेश कहार, शशिभूषण पांडेय व विजय शंकर चतुर्वेदी को अंगवस्त्रम और माल्यार्पण प्रदान कर सम्मानित किया ।
इस अवसर पर शहीद उद्यान के महत्व पर प्रकाश डालते हुए विजय शंकर चतुर्वेदी ने इससे जुड़े ऐतिहासिक संदर्भों की विस्तार से चर्चा की ।
घोरावल विधायक अनिल मौर्य ने शहीद उद्यान और क्रांति पथ के समग्र विकास की चर्चा करते हुए कहा कि उन्हें इस बात का गर्व है कि वे उसी विधान सभा के विधायक हैं जहां भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन की तीर्थस्थली शहीद उद्यान स्थित है।
अध्यक्षीय उदबोधन में सोनभद्र बार एसोसिएशन के अध्यक्ष चंद्रप्रकाश द्विवेदी ने कहा कि वे अपने को सौभाग्यशाली मानते हैं कि इसी उद्यान की मिट्टी में खेल कर बड़े हुए हैं। उन्होंने इस स्थल को देश की गौरव स्थली बताया ।
मुख्य अतिथि द्वारा जनपद में अमृत महोत्सव आयोजन समिति के संयोजक भोलानाथ मिश्र और युवा समाजसेवी पुनीत कुमार जैन को स्मृति चिन्ह और अंगवस्त्रम देकर सम्मानित किया ।
शिवद्वार ट्रस्ट से श्रीकांत दूबे, अनुपम त्रिपाठी, पुनीत जैन और उपस्थित ग्राम प्रधानों ने मुख्य अतिथि को स्मृति चिन्ह देकर उनका सम्मान किया । पत्रकार सनोज तिवारी ने उन्हें अपनी पुस्तक गुप्त काशी और विंध्य संस्कृति शोध समिति उत्तर प्रदेश ट्रस्ट के निदेशक दीपक केसरवानी ने अपनी पुस्तक आदिवासी की प्रति भेंट किया।
कार्यक्रम में अनुपम त्रिपाठी, बैजनाथ के प्रधान कृष्णकांत दूबे, समाजसेवी अयोध्याप्रसाद दुबे, पूर्व विधायक तीरथराज, विजय प्रकाश पांडेय सहित काफी संख्या में गणमान्यजन उपस्थित रहे ।

previous arrow
next arrow

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com