Monday , October 3 2022

प्रेम से प्रकट होते हैं परमात्मा : शशिकान्त

अनिता अग्रहरि (संवाददाता)

धीना। कम्हरियाँ गांव में चल रहे नौ दिवसीय श्रीराम कथा मंगलवार को पांचवे दिन जारी रहा।कथावाचक पूज्य शशिकांत महाराज ने कहा कि परमात्मा केवल और केवल प्रेम से ही प्रकट होते हैं ।दशरथ कौशल्या के यहां भगवान आये तो उनके यहां प्रेम था ।नंद यशोदा के यहाँ अगर भगवान आए तो उनके यहां प्रेम था । हम भी अपने परिवारों में प्रेम प्रकट करें परमात्मा हमारे घर में भी प्रकट हो जाएंगे।संसार में जब भी धर्म की हानि होती है ।तब परमात्मा का इस धरती पर अवतार होता है। भगवान दुष्टों का संहार करने के लिए नहीं आते । अपितु भगवान संतों एवं भक्तो की रक्षा करने के लिए आते हैं । भगवान धरती पर अवतार धारण करके दुष्टों का संहार करते हैं एवं सज्जनों की रक्षा करते हैं।
महाराज ने कहा कि अपने सुखो को बाटने के लिए हमने अनेक जगह बनाया ।जहाँ जाकर हम अपने सुखों को बाटते है पर एक ऐसा स्थान होना चाहिए जहाँ जाकर हम अपने दुखों को बाट सके ।और वो स्थान कोई संसार का नही होना चाहिए ।वो दरबार या तो किसी सन्त का होना चाहिए या फिर भगवंत का होना चाहिए।कथा पंडाल में धूम धाम से राम जन्मोत्सव मनाया गया।कथा का रसपान करने वालों में कांता द्विवेदी, ड़ा0 जयकुमार सिंह, बलराम पाठक, अच्युतानंद त्रिपाठी, कमलेश राय, कृष्णा द्विवेदी आदि रहे।

previous arrow
next arrow

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com