Friday , September 30 2022

किसान सत्याग्रह के सामने झुकी मोदी सरकार – पूर्वांचल नव निर्माण मंच

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

संयुक्त किसान मोर्चे ने मिठाई खिलाकर खुशी की जाहिर

● संसद में कृषि कानून वापसी सुनिश्चित होने तक जारी रहेगा किसान आंदोलन

● न्यूनतम समर्थन मूल्य पर कानूनन गारंटी के साथ-साथ और भी जरुरी मुद्दों का हल निकलना शेष

सोनभद्र । जैसे ही आज भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा कृषि कानून वापसी की घोषणा की गई किसानों के चेहरे पर विजय श्री की खुशी की लहर देखने को मिली। आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कृषि कानून वापस लेने की घोषणा का किसानों ने स्वागत किया । संयुक्त किसान मोर्चे के किसानों ने मिठाई खिलाकर एक-दूसरे को खुशी का का इजहार किया। किसानों ने कहा सरकार ने सैकड़ों किसान की शहादत लेने के बाद निर्णय लिया।

पिछले एक साल से किसान आंदोलन का समर्थन कर रहे पूर्वांचल नव निर्माण किसान मंच तथा पूर्वांचल नव निर्माण मंच के नेता श्रीकांत त्रिपाठी तथा गिरीश पाण्डेय ने कहा गांधीवादी विचारधारा से चल रहे किसानों के सत्याग्रह के सामने अहंकारी सरकार आखिरकार झुक ही गयी। दोनों नेताओं ने कहा संयुक्त किसान मोर्चे के आह्वान पर पूर्वांचल नव निर्माण मंच तथा पूर्वांचल नव निर्माण किसान मंच के कार्यकर्ता लगातार तीनों कृषि कानून का विरोध दर्ज कराते रहे हैं। नेता द्वय ने कहा कि आन्दोलन के दौरान विपक्ष के नेता राहुल गांधी का समर्थन लगातार किसानों को मिलता रहा है। दोनों नेताओं ने कहा कि लखीमपुर खीरी मे मृतक किसानो को न्याय दिलाने के लिए संयुक्त किसान मोर्चे के आह्वान पर जनप्रतिनिधियों का पुतला दहन करने पर मंच के किसानों पर सोनभद्र पुलिस के द्वारा मुकदमा भी दर्ज किया गया है।

नेता द्वय ने बताया कि जबतक कृषि कानून संसद मे संवैधानिक रुप से वापस नही हो जाता तथा न्यूनतम समर्थन मूल्य पर कानूनन गारंटी तथा अन्य कृषि समस्याओं पर सरकार से सहमति नहीं बन जाती किसान आंदोलन जारी रहेगा । नेता द्वय ने कहा भाजपा सरकार ने सहानुभूति मे कानून वापसी की घोषणा नहीं की है, यह चुनाव हारने का भय है जो सरकार किसानों की बात करने लगी है।

इस क्रम मे आगे की रणनीति पर चर्चा के लिए कल दोपहर बारह बजे नवीन सब्जी मंडी परिसर मे किसानों के साथ एक बैठक की जायेगी।

इस दौरान भारतीय किसान यूनियन के जिलाध्यक्ष ओमप्रकाश सिंह उर्फ देशराज, पूर्वांचल नव निर्माण किसान मंच के नेता गिरीश पाण्डेय, विक्रम पटेल, आशू पटेल, संतोष पटेल, अमन मौर्या, सत्यम मौर्या, रामनाथ सिंह, कन्हैया सिंह, कांग्रेस पटेल, बादल सहित दर्जनों किसान उपस्थित हुए।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com