Tuesday , October 4 2022

अपडेट-रिटायर्ड कर्मचारी की हत्या की जांच में जुटी पुलिस

विवेक मिश्रा (संवाददाता)

शाहगंज। थाना क्षेत्र के उसरी खुर्द गांव में बीती रात केशरी पुत्र महीप उम्र 61 वर्ष की हत्या कर चोरों ने घर के अलमारी में रखे नगदी समेत जेवरात उठा ले गए। मौके पर सीओ समेत पुलिस के आला अधिकारी मौजूद रहे। पुलिस की माने तो जब तक पोस्टमार्टम की रिपोर्ट नहीं आ जाती तब तक कुछ भी कह पाना मुश्किल है। समाचार लिखे जाने तक परिजनों की तरफ से कोई भी तहरीर नहीं दी गई थी।परिवार वालों की माने तो मृतक केसरी की हत्या की गई है।
इस बाबत मृतक की बहू चंद्रकला ने बताया कि रोज की तरह मेरे ससुर जी बाहर अपने कमरे में सोए हुए थे। हम लोग अंदर अपने कमरे में सोए हुए थे सुबह 4:30 बजे जब हम लोग जगे तब मैं अपने काम में व्यस्त हो गई। 5:30 बजे के करीब मेरी पति अजय गौतम घर से लगभग 40 फीट की दूरी पर बने शौचालय की तरफ गए तो देखा कि पिताजी गिरे पड़े हुए हैं और उनका लंगोट बाहर शौचालय के दरवाजे के पास पड़ा हुआ था। मृत अवस्था में देखकर उन्होंने चिल्लाना शुरू किया। चंद्रकला ने बताया कि उनके गले पर गहरा निशान भी था। जब उनके कमरे में रखी अलमारी से गहना जेवर भी गायब थे। बहू के मुताबिक मेरे ससुर जी की गला दबाकर हत्या की गई है। गले पर गहरे जख्म के निशान भी हैं।

मृतक की पुत्री आशा ने बताया कि जहां शौचालय पर पिताजी का शव मिला वहां उनकी लंगोट शौचालय के दरवाजे पर पड़ी हुई थी हम लोगों को आशंका है की लंगोट के धागे से उनका गला दबाया गया है। बहू और लड़की के मुताबिक पिताजी लोगों के गहने भी गिरवी रखते थे। बीती रात हुई इस सनसनीखेज वारदात में उसरी गांव समेत आस-पास के गांव में भी दहशत का माहौल व्याप्त कर दिया है। समाचार लिखे जाने तक परिजनों की तरफ से कोई तहरीर नहीं दी गई थी। परिजन जहा केसरी की मौत को हत्या बता रहे हैं। वहीं इस बाबत थानाध्यक्ष शाहगंज संजय पाल ने बताया कि अभी तक परिजनों की तरफ से कोई भी तहरीर नहीं दी गई है। वैसे पुलिस हर बिंदुओं पर जांच कर रही है। शौचालय समेत सभी जगहों की वीडियोग्राफी भी कराई गई है। जब तक पोस्टमार्टम की रिपोर्ट नहीं आ जाती तब तक कुछ भी बता पाना संभव नहीं है।
केसरी प्रसाद स्टेट बैंक के रिटायर्ड कर्मचारी थे एक साल पहले ही रिटायर हुए थे। रिटायर के बाद अपने गांव के ही घर में रहते थे। इनकी दो लड़कियां और एक लड़का है।तीनो की शादी हो गई है।अपने इकलौते लड़के अजय कुमार के साथ ही रहते थे। इस दौरान सीओ प्रदीप सिंह चन्देल एस ओ संजय पाल चौकी इंचार्ज दिग्विजय सिंह पुलिस फोर्स के साथ पहूचे ,लाश को अपने कब्जे में लेकर जिला अस्पताल पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

previous arrow
next arrow

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com