Tuesday , October 4 2022

शराब तस्करों के लिए साफ्ट जोन बना इलिया

विनोद कुमार (संवाददाता)

पुलिस के धर पकड़ के बाद भी जारी है धड़ल्ले शराब तस्करी
इलिया।कस्बा पुलिस के लाख प्रयास के बाद भी शराब तस्करी बंद होने का नाम नही ले रही है।जिसकी बानगी आये दिन शराब तस्करों के पकड़े जाने के रुप में दिखाई दे रही है।बिहार में नितीश सरकार के शराब बंद करने के बाद भी गैर कानूनी ढंग से शराब तस्करी जोरों पर जारी है।अन्य प्रदेशों से शराब लाकर चोरी छूपे पीने और पिलाने का का क्रम जारी है।वही कुछ जगहों पर गैरकानूनी ढंग से जहरीली शराब बनाकर भी पिलाई जा रही है।जिसका बानगी बिहार के समस्तीपुर में जहरीली शराब से मौत के रुप में सामने आ चूकी है।इलिया थाना क्षेत्र के एक दर्जन गांव बिहार से जूड़े हुए है।जिसका फायदा शराब तस्कर उठा रहे है।बार्डर पर स्थित अंग्रेजी, देशी व बीयर की दुकानों से शराब खरीद कर बिहार में लेजाकर बेचते है और मोटा मुनाफा कमाते है।पुलिस इन इलाकों में गस्त करती रहती है।लेकिन वह भी नाकाफी सिध्द हो रहे है।जिसका परिणाम दुकानों पर विक्री में बढोतरी के रूप में देखी जा रही है।छोटे मोटे शराब तस्करों को पुलिस पकड़ कर अपनी पीठ भले थपथपा रही है।लेकिन जमीनी हकीकत कुछ और ही है।बड़े पैमाने पर शराब खरीद कर तस्कर यूपी से बिहार में लेजाकर बेचने का कार्य कर रहे है और मोटा मुनाफा कमा रहे है।शराब तस्करी से जुडे लोगों से जब इस समबंध में बात की गयी तो उन्होंने कहां कि यूपी से शराब लाने के बाद इस मनमाने दाम पर बेचा जाता है उसके अलावा होटल ब्यवसाय से जुड़े लोगों की भी शराब की सप्लाई की जाती है।कभी पकड़ में आ गये भी तो कुछ दिन जेल में रहने के बाद फिर वापस आकर इसी कार्य में लग जाते है।

previous arrow
next arrow

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com