Thursday , October 6 2022

दलित, अल्पसंख्यक सम्मेलन में गरजे पूर्व कैबिनेट मंत्री बाबू सिंह कुशवाहा

जयनाथ मौर्या (संवाददाता)

मधुपुर । स्थानीय चंद्रगुप्त मौर्य इंटर कॉलेज के क्रीड़ा मैदान में जन अधिकार पार्टी द्वारा पिछड़ा दलित अल्पसंख्यक सम्मेलन किया गया। इस कार्यक्रम में अपना दल (एस) नेता सुमंत मौर्य ने अपना दल का दामन छोड़ जन अधिकार पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। वही सत्ता धारी दल भाजपा के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य एवं जिला अध्यक्ष अनुसूचित मोर्चा चंदौली के सुभाष सोनकर ने अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ जन अधिकार पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। वहीं विधानसभा क्षेत्र अध्यक्ष कृष्ण कुमार मौर्य ने बसपा को छोड़ जन अधिकार पार्टी का दामन थामा।

जनसमूह को संबोधित करते हुए पूर्व कैबिनेट मंत्री पार्टी संस्थापक एवं राष्ट्रीय अध्यक्ष बाबू सिंह कुशवाहा ने संबोधित करते हुए कहा कि आजादी के 74 साल बाद भी पिछड़ा दलित अल्पसंख्यक वर्ग बदहाली भरा जीवन जीने के लिए विवश है। भाजपा लोगों की भावनाओं को हिंदुत्व के नाम पर भड़का कर सत्ता में पहुंचे पिछड़ों दलितों अल्पसंख्यकों के साथ ही देश को बर्बाद करने पर तुली हुई है।

सरकारी संस्थानों को बेचकर नई कृषि व शिक्षा नीति के माध्यम से देश के युवाओं, बेरोजगारों, किसानों को लाचार गुलाम बनाने का काम कर रही है। वहीं समाजवादी पार्टी पर हमला करते हुए कहा कि समाजवाद की बात करने वाली पार्टी एक जाति की पार्टी बन कर रह गई। सपा पिछड़ों, दलितों, अल्पसंख्यकों का वोट लेकर सत्ता में तो जाना चाहती है, परंतु हिस्सा नहीं देना चाहती अब ऐसा नहीं होने वाला है। बसपा को निशाने पर लेते हुए पार्टी मुखिया ने कहा कि अब बसपा में कांशी राम की झलक तक नहीं दिखती। बसपा मुखिया कांशी राम के नारे को बदल कर जिसकी जितनी थैली भारी उसकी उतनी हिस्सेदारी की बात करने लगी है। कहा कि जन अधिकार पार्टी एक आंदोलन का नाम है जो सत्ता के साथ व्यवस्था परिवर्तन करना चाहती है देश में समान शिक्षा आरक्षण को शत-प्रतिशत लागू और जी सके जितनी संख्या उतनी उनकी हिस्सेदारी और महिलाओं को 50% भागीदारी की पक्षधर हाय सभा के अंत में सम्मेलन प्रभारी एवं मिर्जापुर मंडल अध्यक्ष भाग्यश्री सिंह मौर्य एवं जिला अध्यक्ष आदित्य मौर्य लोगों को धन्यवाद ज्ञापित किया।

सम्मेलन में मुख्य रूप से अजीत प्रताप कुशवाहा, विजय नारायण वर्मा, नसीम खान, कन्हैया सिंह, रामकृष्ण प्रजापति, रानी सिंह, अनीता मौर्या, इंदु मेहता, सूर्य प्रकाश पासवान, जिला पंचायत सदस्य उषा देवी, मालती देवी, सत्यनारायण गोंड़, किरण सिंह, सुषमा शाक्य, इंद्रावती, भानुमति देवी, सभापति सिंह, विश्राम वर्मा, मनीष मौर्य, आशीष मौर्य सहित हजारों लोग मौजूद थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता आदिवासी नेता शिवकुमार खरवार व संचालन जिला महासचिव रवि रंजन शाक्य ने किया।

previous arrow
next arrow

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com