Monday , October 3 2022

बेलहत्थी मौतों के मामले में मानवाधिकार आयोग ने दर्ज किया मुकदमा

एस प्रसाद(संवाददाता)

-आइपीएफ का अनिश्तिकालीन धरना अठाहरवें दिन भी जारी, कुसुम्हा में हुई सभा

म्योरपुर। बेलहत्थी में बीमारी से हुई ग्यारह मौतों के मामले में आल इंडिया पीपुल्स फ्रंट की शिकायत पर राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने मुकदमा दर्ज कर मुख्य सचिव उत्तर प्रदेश को आवश्यक कार्यवाही का आदेश दिया है। ज्ञात हो कि पिछले दिनों बेलहत्थी के रजनी टोला में प्रदूषित पानी के कारण ग्यारह लोगों अकाल मृत्यु हुई थी जिसकी शिकायत आइपीएफ नेता दिनकर कपूर ने राष्ट्रीय मानवाधिकार से की थी जिस पर केस संख्या 31650/24/69/2021 दर्ज किया गया है। शिकायत में रजनी टोला में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र खोलने और शुद्ध पेयजल के लिए वाटर ट्रीटमेंट प्लांट लगाने व हैण्ड़पम्प लगाने की मांग की गई थी।
उधर आज रासपहरी में घरना अठाहरवें दिन भी जारी रहा। घरना में बढ़ रही महंगाई पर रोक लगाने की मांग उठी। धरने में वक्ताओं ने कहा कि खाद्य पदार्थे, तेल, गैस, सब्जियों की बढ रही महंगाई ने आम आदमी की कमर तोड़ दी है। धरने के साथ ही आज से गांव-गांव वनाधिकार कानून को लागू करने, मनरेगा में काम और बकाया मजदूरी के भुगतान, दुद्धी में आदिवासी लडकियों के लिए निःशुल्क व आवासीय स्नातक तक शिक्षा के इंतजाम के लिए डीग्री कालेज खोलने समेत जन मुद्दों पर जन अभियान भी शुरू किया गया। जिसके तहत आज कुसम्हा गांव में आम सभा की गई।
धरने व आम सभा में आइपीएफ जिला संयोजक कृपा शंकर पनिका, मजदूर किसान मंच जिलाध्यक्ष राजेन्द्र प्रसाद गोंड़, मंगरू प्रसाद गोंड़, मनोहर गोंड़, इंद्रदेव खरवार, संजय गोंड़, बिरझन गोंड़, बृजमोहन गोंड़, दुखी सिंह गोंड़, राम सुभग गोंड़, नरेश गोंड़ जीतू सिंह गोंड़, गम्भीरा गोंड़, रामचंदर बैगा, सोहर सिंह गोंड़, रामनाथ गोंड़, भीम सिंह गोंड़, हरीनारायण पटेल, अनारकली देवी, बबिता देवी, सुनीता देवी आदि लोग उपस्थित रहे।

previous arrow
next arrow

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com