Sunday , October 2 2022

कदम-कदम पर लगा जाल बना विवाद का कारण

फ़ैयाज़ खान मिस्बाही (ब्यूरो)


गाजीपुर। वर्तमान समय में बाढ़ एवं बारिश का पानी किसानों के लिए मुसीबत बना हुआ है। किसान रबी की खेती के लिए टकटकी लगाए हुए हैं। खेत चार से पांच फीट पानी से भरे हैं। आलम यह है कि कई मार्ग भी बाढ़ के पानी से डूबे हुए हैं। किसान पानी निकलने का इंतजार कर रहे हैं, तो मछली मारने वाले कदम- कदम पर जाल लगाए हुए हैं। ऐसे में पानी की निकासी की गति काफी धीमी हो गई है।
गाजीपुर एवं बलिया का करईल इलाका बाढ़ व बारिश के पानी से तबाह है। खेती चौपट है। गाजीपुर जिले के अनेकों गांव के किसान खेतों में भारी जलजमाव को लेकर परेशान हैंं। पहले तो धान की फसल बर्बाद हुई। अब रबी की खेती भी नहीं हो पाएगी।आलम यह है कि करईल इलाके में अभी भी सड़कों पर पानी बह रहा है। मगई नदी में मछली पकड़ने वालों ने कई जगह जाल लगा दिया है। इसके कारण पानी का निकास बहुत धीमी गति से हो रहा है। इसी बात को लेकर किसानों में नाराजगी है।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com