Wednesday , October 5 2022

प्रोत्साहन राशि नहीं मानदेय में हो बढ़ोत्तरी

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । बाल विकास परियोजना के तहत तैनात आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के मानदेय में मुख्यमंत्री द्वारा 1500 रुपये बढ़ाने की घोषणा की गई थी। जबकि शासनादेश में मानदेय बढ़ोत्तरी न कर उसे प्रोत्साहन राशि के रूप में दर्शाया गया है। जिससे आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं व सहायिकाओं में आक्रोश है। जिसके बाद पूरे प्रदेश में आँगनबाड़ी कार्यकर्तियों ने सरकार के इस फैसले को लॉलीपॉप बताते हुए विरोध शुरू कर दिया है। इसी क्रम में आज लोढ़ी स्थित संकट मोचन मंदिर पर भारी संख्या में जुटी आँगनबाड़ी कार्यकर्तियों ने आँगनबाड़ी कर्मचारी संघ के बैनर तले जुलूस की शक्ल में कलेक्ट्रेट पहुँच प्रदर्शन किया तथा मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा।

इस दौरान संघ की जिलाध्यक्ष प्रतिमा सिंह ने कहा कि “हमें किसी भी हाल में प्रोत्साहन राशि मंजूर नहीं है। हमारी माँगे सरकार को माननी ही होंगी। उन्होंने समस्त आँगनबाड़ी कार्यकर्तियों को राज्य कर्मचारी का दर्जा देने, सभी आंगनबाड़ियों को मानदेय महंगाई के कारण कम से कम 24000 हजार रुपये दिए जाने की माँग की। वहीं उन्होंने सरकार को चेताते हुए कहा कि यदि हमारी माँगे नहीं मानी गयी तो हम सड़क पर आने को बाध्य होंगी।”

इस दौरान उर्मिला सिंह, लक्ष्मी जायसवाल, साधना विश्वकर्मा, उर्मिला देवी, गीता, रीता देवी, सुनीता देवी, रानी देवी, उर्मिला, आशा, रेखा त्रिपाठी, सीमा, अनीता, विमला, कृष्णावती, यशोदा, कांति, शकुंतला समेत सैकड़ों की संख्या में आंगनबाड़ी कार्यकर्तियाँ मौजूद रही।

previous arrow
next arrow

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com