Wednesday , October 5 2022

स्वच्छ भारत अभियान को मुँह चिढ़ाता इमरती कॉलोनी में लगा कूड़े का ढ़ेर

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

गंदगी के अंबार से बना रहता है संक्रामक रोगों का खतरा

सोनभद्र । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वच्छता मिशन के तहत देश भर में सफाई अभियान चल रहा है, मगर रॉबर्ट्सगंज में स्वच्छता अभियान पर दाग लग रहा है। पॉश कॉलोनी से कूड़ा उठना तो दूर सफाई तक नहीं की जा रही है। सप्ताह और महीनों से कॉलोनियों में सफाई व्यवस्था बिगड़ी हुई है। भले ही पंचायत विभाग की ओर से स्वच्छ भारत अभियान के तहत गांवों में सफाई के के लाख दावे किए जाते हों लेकिन इसके बाद भी गाँव के गली मोहल्लों में लगे कूड़े के ढ़ेर शहर के चौराहों पर लगे पोस्टर होर्डिंग स्वच्छ भारत अभियान की पोल खोल रहे हैं।

गांवों में सफाई व्यवस्था को चाक-चौबंद करने के लिए सफाई कर्मियों की नियुक्ति की गई है लेकिन कर्मी गांवों में कभी-कभार ही दर्शन देने के लिए जाते हैं। इससे गांवों में गंदगी का अंबार लगा हुआ है। लापरवाही से संक्रामक बीमारियों के फैलने का खतरा बढ़ गया है।

विकास खण्ड रॉबर्ट्सगंज अंतर्गत बढ़ौली ग्राम पंचायत स्थित पॉश कॉलोनी मानी जाने वाली इमरती कालोनी इन दिनों संक्रामक रोगों के मुहाने पर है। जगह-जगह कूड़े के ढेर से उठने वाले सड़ांध व दुर्गंध से लोगों को दुश्वारियां झेलनी पड़ रही है। कॉलोनी में कुड़ा निस्तारण अथवा डंपिंग प्वाइंट की व्यवस्था न होने से जो जहां चाहता हैं वहीं कूड़ा फेंक देता है। पूरे कॉलोनी में कूड़ेदान की भी पर्याप्त व्यवस्था नहीं है।

कहने के लिए तो इमारती कॉलोनी वीआईपी कॉलोनी मानी जाती है। जहाँ जिले के उच्चाधिकारियों से लेकर बड़े-बड़े नेताओं का बसेरा है मगर सुविधाएं नदारद हैं। चहुँओर समस्याएँ ही समस्याएँ है, जिसके निस्तारण को लेकर जिम्मेदार भी बेफ्रिक बने हुए हैं।

डीपीआरओ विशाल सिंह ने बताया कि “कूड़े के निस्तारण के लिए एडीओ पंचायत रॉबर्ट्सगंज को निर्देशित किया जा चुका है।”

previous arrow
next arrow

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com