Tuesday , October 4 2022

घोरावल विधानसभा में विकास का एक सच यह भी…नहीं देखे हैं तो जरूर देखें

संतोष जायसवाल/हनीफ खान (संवाददाता)

करमा । यदि आप सोनभद्र में रहते हों और डिलेवरी के लिए रात में निकल रहे हों तो आप अपने पास दो सामान याद कर जरूर रख लें, एक मोबाइल और दूसरा टार्च। क्योंकि हो सकता है कि जिस प्रसव केंद्र पर आप जा रहे हों वहां बिजली न हो । यह हम नहीं कह रहे बल्कि सरकारी अस्पताल की एनम कह रही हैं । आज हम आपको जो तस्वीरें दिखाने जा रहे हैं उसे देखकर आप जरूर चौंक जाएंगे कि आखिर जिस जिले की मॉनिटरिंग सीएम योगी खुद करते हों वहां का स्वास्थ्य व्यवस्था का हाल आखिर बेहाल क्यों है ।

चुनाव नजदीक हो तो पूरे कार्यकाल में न बोलने वाले विधायक भी बोलने लगते हैं । ये हैं घोरावल से बीजेपी विधायक अनिल मौर्या । सीएम योगी ने उनके क्षेत्र में मेडिकल कालेज दिया तो वे उनकी तारीफ करते नहीं थक रहे।
बीजेपी विधायक का कहना है कि सीएम योगी ने क्षेत्र की जनता के लिए कृपा दृष्टि बनाई है तो उन्होंने भी अपने क्षेत्र में कई अस्पताल शुरू कराये और 20 से लेकर 22 घंटे तक बिजली दे रहे हैं ।

घोरावल विधानसभा से बीजेपी विधायक के दावे के बाद अब आप इन तस्वीरों को गौर से देखिये । यह तस्वीर घोरावल विधानसभा क्षेत्र के खैरपुर की है। जहां प्रसव केंद्र खुले एक लंबा साल गुजर गया मगर केंद्र की दुर्दशा नहीं बदली । आलम यह है कि 21वीं सदी में आज भी यहां प्रसव मोबाइल या टार्च की रोशनी में होती है ।

प्रसव केंद्र में तैनात महिला का कहना है कि सुविधा न होने की वजह से ज्यादातर केस रेफर कर दिया जाता है लेकिन इमरजेंसी के दौरान मोबाइल या टार्च द्वारा प्रसव कराया जाता है ।

ऐसा नहीं कि घोरावल विधानसभा में दुर्दशा झेल रहा यह अकेला प्रसव केंद्र है । ऐसे तमाम केंद्र हैं जहां बच्चे की नसीब नहीं कि वह उजाले में पड़ा हो, मां को बच्चे का चेहरा ठीक से देखना नसीब नहीं होता ।

यहां प्रसव केंद्र में तैनात एनम का कहना है कि उन्होंने लिखा पढ़ी की है लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही । एनम का कहना है कि मजबूरी में टार्च या मोबाइल की रोशनी में प्रसव कराना पड़ता है ।

हर मां-बाप का सपना होता है कि उसका बच्चा अच्छे अस्पताल में जन्में लेकिन सरकारी अस्पतालों की दुर्दशा देख कर परिजन भी हैरान व परेशान हैं ।

वहीं सोनभद्र से बने नए राज्यमंत्री संजीव गोंड़ भी प्रसव के दर्द की कहानी सुनकर इतना जरूर कहे कि वे अभी नए हैं लेकिन यदि कोई भ्रष्टाचार मिला तो कड़ी कार्यवाही होगी।

सीएम योगी ने मेडिकल कालेज के अलावा सोनभद्र को कई बड़ी सौगात दी है । हाल ही में उन्होंने जनजाति से विधायक संजीव गौड़ को राज्यमंत्री तक बनाया । बतौर विधायक रहते संजीव गोंड़ क्षेत्र के लिए कोई खास जलवा नहीं दिखा सके थे लेकिन अब देखने वाली बात यह है कि मंत्री बनने के बाद वे जनपद का कितना कायाकल्प कर पाते हैं।

previous arrow
next arrow

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com