Tuesday , September 27 2022

दुधमुंही चचेरी बहन के साथ दुराचार व हत्या करने के आरोपी को कोर्ट ने सुनाया मृत्युदंड

पाँच माह की दुधमुंही चचेरी बहन के साथ दुराचार कर हत्या करने के आरोपी प्रेमचंद उर्फ पप्पू दीक्षित को पाक्सो एक्ट के विशेष न्यायाधीश अरविंद मिश्रा ने मृत्यु दण्ड के साथ साथ एक लाख बीस हजार रुपए के जुर्माने की सजा सुनाई है ।
न्यायाधीश अरविंद मिश्रा ने अपने 99 पृष्ठीय निर्णय में इस बात का स्पष्ट रूप से उल्लेख किया है कि मृत्युदंड के लिए अभियुक्त की गर्दन में फांसी लगाकर तब तक लटकाया जाए जब तक कि उसकी मृत्यु न हो जाए। इसी के साथ यह भी कहा है कि मृत्युदंड की पुष्टि के लिए माननीय उच्च न्यायालय से पुष्ट होने के अधीन मृत्युदंड के दंड से दंडित किया जाता है।

यह था मामला

इस मामले की घटना की रिपोर्ट पीड़िता के पिता द्वारा 17 फरवरी 2020 को थाना मंडियाव में दर्ज कराई गई थी। जिसमें कहा गया है कि वह राजकुमार मिश्रा की बेटी की शादी में 16 फरवरी को शामिल होने के लिए पत्नी और भाभी के साथ एसआर मैरिज लॉन दाऊद नगर निकट जगलाल पेट्रोल पंप आया था कि शाम लगभग 7:00 बजे उसकी पत्नी से उसका सगा भतीजा प्रेमचंद उर्फ पप्पू दीक्षित खिलाने के बहाने बच्ची को लेकर चला गया ।जब काफी देर तक नहीं आया तो वादी की पत्नी ने उसकी तलाश की काफी देर खोजबीन के बाद वादी की लड़की मैरिजलान से दूर खाली पड़े प्लाट की झाड़ियों में अचेत अवस्था में पड़ी मिली। जिसे ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया ।जहां उसकी मौत हो गई थी रिपोर्ट में अपनी बेटी की हत्या के लिए भतीजे पप्पू दीक्षित पर आरोप लगाया था।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com